Vijay Kumar IPS : वीरप्पन को मारने से लेकर जम्मू कश्मीर पहुंचने तक

जम्मू कश्मीर को हिस्सों में बांटने के बाद अब केंद्र सरकार तेज तर्रार अधिकारियों को घाटी की जिम्मेदारी सौंप रही है. ख़बर आ रही है कि जम्मू-कश्मीर के केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद आईपीएस अफसर के. विजय कुमार राज्य के पहले उप राज्यपाल बन सकते हैं.

विजय कुमार IPS : विजय कुमार तमिलनाडु कैडर के 1975 बैच के IPS हैं. वो काफी तेजतर्रार अधिकारी माने जाते हैं. वीरप्पन को मारने से लेकर जम्मू कश्मीर के राज्यपाल के सलाहकार बनने तक विजय कुमार ने लंबा रास्ता तय किया है. विजय कुमार बीएसएफ के आईजी के तौर पर भी कश्मीर घाटी में अपनी सेवाएं दे चुके हैं. इसके साथ ही उप राज्यपाल के लिए केंद्र सरकार के विशेष प्रतिनिधि दिनेश्वर शर्मा का नाम भी चल रहा है. दिनेश्वर शर्मा इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) के निदेशक रह चुके हैं.

विजय कुमार ने वीरप्पन को किया था ढेर

आईपीएस अधिकारी के. विजय कुमार को जंगलों में आतंकरोधी अभियान चलाने में माहिर माना जाता है. वीरप्पन का सफाया करने के बाद से उनके काम करने का तरीका मशहूर हो गया था. 2010 में छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में नक्सली हमले में सीआरपीएफ  के 75 जवानों के शहीद होने के बाद विजय कुमार को सीआरपीएफ का महानिदेशक (डीजी) बनाया गया था. विजय कुमार की ही अगुआई में चंदन तस्कर वीरप्पन को मार गिराया गया था. उन्हें लबे वक्त घाटी में काम करने का अनुभव है.

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.