‘अनुच्छेद -370 और 35ए ने जम्मू-कश्मीर को परिवारवाद, अलगाववाद और भ्रष्टाचार दिया’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन किया. उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि जम्मू कश्मीर और लद्दाख में केंद्र सरकार का शासन एक नए युग की शुरुआत है.

अनुच्छेद 370 को खत्म किए जाने के बाद से जहां घाटी में हालात तनावपूर्ण हैं तो वहीं पाकिस्तान भी अपने स्तर पर मोदी सरकार के फैसले को गलत साबित करने की कोशिशों में लगा है. इसी बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में इस मसले पर बात की. उन्होंने कहा जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 के प्रावधानों को खत्म करने और जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को केंद्रशासित प्रदेश बनाना यहां के लोगों के लिए एक नए युग की शुरुआत है. गुरुवार को रात आठ बजे राष्ट्र के नाम दिए अपने संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अनुच्छेद 370 को हटाने की वजह बताते हुए कहा है,

अनुच्छेद 370 से जो नुकसान हो रहा था. उसकी कोई चर्चा नहीं हो रही थी. कोई यह भी नहीं बता पाता था कि इससे जम्मू कश्मीर के लोगों को क्या लाभ हुआ. अनुच्छेद -370 और 35ए ने जम्मू-कश्मीर को परिवारवाद, अलगाववाद और भ्रष्टाचार के अलावा कुछ नहीं दिया.’

राष्ट्र के नाम संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान को भी निशाने पर लिया. उन्होंने पाकिस्तान को घेरते हुए कहा कि पाकिस्तान अनुच्छेद 370 और 35ए को देश के खिलाफ लोगों की भावनाएं भड़काने के लिए एक शस्त्र की तरह इस्तेमाल करता रहा है. इसकी वजह से 42 हजार निर्दोष लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी. उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख का विकास उस गति से नहीं हो पाया जिसका वो हकदार था. प्रधानमंत्री ने कहा कि नई व्यवस्था से हालात बेहतर होंगे. और इस क्षेत्र का विकास होगा.

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.