मयंक अग्रवाल को टीम इंडिया में शामिल करना सही फैसला है ?

मयंक अग्रवाल को टीम में शामिल करना क्या सही फैसला है ?

इंग्लैंड में हो रहे है क्रिकेट वर्ल्ड कप में टीम इंडिया के एक और कीमती खिलाड़ी को चोर के कारण टीम से बाहर होना पड़ा है. पहले ओपनर शिखर धवन फिर भुवी और अब चौथे नंबर पर बल्लेबाज़ी कर रहे ऑलराउंडर विजय शंकर चोटिल हो गए हैं. विजय शंकर की जगह टीम में मयंक अग्रवाल को मौका दिया गया है.

विजय शंकर को बुमराह की यॉर्कर ने घायल कर दिया है, उनके पैर के अंगूठे में फ्रैक्चर होने की वजह से टीम से बाहर होना पड़ा है. उनकी चोट गंभीर है और वो बाकी मैच में नहीं खेल पाएंगे. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने इस संबंध में प्रेस विज्ञप्ति जारी करके जानकारी दी है. इस प्रेस रिलीज में बताया गया है कि विजय शंकर के स्थान पर मयंक अग्रवाल को विश्व कप की टीम के साथ जोड़ने का फ़ैसला किया है. मयंक अग्रवाल इस हफ्ते टीम में जुड़ जाएंगे. टीम इंडिया को दो जुलाई को बांग्लादेश से और छह जुलाई को श्रीलंका के ख़िलाफ़ मैच खेलना है.

आपको बता दें कि विजय शंकर को टीम इंडिया में 3डी खिलाड़ी के तौर पर शामिल किया गया था. जिसका मतलब था कि विजय शंकर बल्लेबाज़ी के साथ ज़रूरत पड़ने पर मीडियम पेस गेंदबाज़ी और अच्छी फ़ील्डिंग कर सकेंगे. शिखर धवन के चोटिल होने के बाद टीम में विजय शंकर चौथे नंबर के बल्लेबाज़ की भूमिका निभाने लगे. हालांकि इस स्थान पर उनका प्रदर्शन बहुत अच्छा नहीं रहा. पाकिस्तान के खिलाफ 15 रन और दो विकेट लिए, अफ्गानिस्तान के खिलाफ उन्होंने चौथे पर नंबर पर बल्लेबाज़ी करते हुए 41 गेंदों में 29 रन बनाए. वेस्टइंडीज के खिलाफ 19 गेंदों पर 14 रन बनाए. विजय शंकर ने मौजूदा विश्वकप में कुल तीन मैच खेले जिसमें से एक बार वो नाबाद रहे. उन्होंने कुल 58 रन बनाए और दो विकेट झटके.

मयंक का चयन हुआ चर्चा में रायुडू हैं

बीसीसीआई ने वर्ल्ड कप के लिए मयंक अग्रवाल का चयन किया है लेकिन चर्चा पिछले कई सालों से भारत के लिए खेल रहे अंबाती रायुडू की हो रही है. वर्ल्ड कप से कुछ महीने पहले उनका प्रदर्शन खराब हो गया था इसलिए उन्हें टीम इंडिया से बाहर होना पड़ा था. लेकिन विजय शंकर की जगह मयंक अग्रवाल का चयन होने के बाद एक बार फिर से अंबाती रायुडू का नाम सुर्खियों में है. मयंक अग्रवाल ने अभी तक भारत के लिए एक भी अंतरराष्ट्रीय वनडे मैच नहीं खेला है. इसके अलावा उन्होंने अंतरराष्ट्रीय टी20 में भी अभी तक अपने करियर की शुरुआत नहीं की है.

तो फिर चयनकर्ताओं ने किस आधार पर उन्हें टीम में मौका दिया है. क्या मयंक अग्रवाल सीधा विश्व कप में ही अपने वनडे करियर की शुरुआत करेंगे. मयंक अग्रवाल ने पिछले साल दिसंबर में ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ मेलबर्न में अपने टेस्ट करियर का आग़ाज़ किया था. इस मैच में उन्होंने ओपनिंग करते हुए 76 रनों की पारी खेली थी.

ए क्लास क्रिकेट की बात करें तो मयंक के 75 पारियों में 48.71 की औसत से 3605 रन हैं. जिसमें 12 शतक और 14 अर्धशतक शामिल हैं मयंक के चयन के बाद सोशल मीडिया पर अंबाती रायुडू की खूब चर्चा हो रही है. देखिए कुछ ट्वीट,

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.