रैपर हार्ड कौर पर देशद्रोह का केस दर्ज, योगी आदित्यनाथ और मोहन भागवत पर किया था कमेंट

रैपर हार्ड कौर पर देशद्रोह का केस

उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत पर कमेंट करने के आरोप में रैपर हार्ड कौर पर राष्ट्रद्रोह का केस दर्ज हो गया है. हार्ड कौर ने अपने सोशल मीडिया अकाउंड पर ये कमेंट किया था जिसके बाद वाराणसी में शशांक शेखर नाम के एक वकील ने मामला दर्ज कराया है. शेखर आरएसएस के सदस्य भी हैं.

ब्रिटेन की चर्चित रैपर हार्ड कौर ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट किया था जो उनके लिए मुश्किल बन गया है. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ और आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत की आलोचना करने वाले सोशल मीडिया पोस्ट के लिए भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है.

हार्ड कौर का असली नाम तरन कौर ढिल्लन है. टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक वाराणसी में वकील शशांक शेखर ने IPC का धारा 124ए (देशद्रोह), 153 (धर्म के आधार पर विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना), 500 (मानहानि) और 505 (भड़काने की कोशिश) और आईटी अधिनियम की धारा 66 के तहत मामला दर्ज कराया गया है.

शेखर आरएसएस के सदस्य हैं और काफी सक्रिय भी है. हार्ड कौर के फेसबुक और इंस्टाग्राम पेज पर आदित्यनाथ को ‘रेपमैन’ और हेमंत करकरे की मौत के लिए आरएसएस को जिम्मेदार ठहराते हुए पोस्ट लिखा गया है. करकरे 26/11 के मुंबई हमलों के दौरान आतंकवादियों से लड़ते हुए शहीद हुए थे. शिकायतकर्ता ने कहा है कि वो हार्ड कौर की टिप्पणियों से काफी आहत हुए हैं. इस मामले की जांच अपराध शाखा के निगरानी सेल को सौंपी जा रही है. आपको बता दें कि रैपर हार्ड कौर बॉलीवुड के विभिन्न गानों में अपने पंजाबी रैप गायकी के लिए जानी जाती हैं.

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.