लोकसभा चुनाव 2019 : कौन है इस चुनाव का सबसे उम्मीदवार ?

मांगेराम कश्यप हैं सबसे गरीब उम्मीदवार

2019 लोकसभा चुनाव में एक तरफ जहां करोड़पति और लखपति उम्मीदवारों की लंबी सूची है. वहीं कुछ उम्मीदवार ऐसे भी हैं जिनके अकाउंट में एक भी पैसा नहीं है. आप जरूर चौंक गए होंगे. लेकिन ये सच है. आपको बताते हैं कि उन उम्मीदवारों के बारे में जो सबसे गरीब हैं.

यूपी के मुजफ्फरनगर से चुनाव लड़े मांगेराम कश्यप गरीब प्रत्याशी हैं. मुजफ्फरनगर में चुनाव पूरे हो चुके हैं. लेकिन इस सीट पर चुनाव संपन्न होने के बाद भी यहां से उम्मीदवार मांगेराम सुर्खियों में बने हुए हैं. मांगेराम साल 2000 से चुनाव लड़ रहे हैं और हर चुनाव के साथ वो और गरीब होते जा रहे हैं.

अपनी पार्टी बनाकर लड़ते हैं चुनाव

मांगेराम 2019 के लोकसभा चुनावों के सबसे गरीब उम्मीदवारों में से एक हैं. 51 साल के मांगेराम पेशे से वकील हैं. साल 2000 में उन्होंने अपनी खुद की पार्टी बनाई. जिसका नाम ‘मजदूर किसान यूनियन पार्टी’ है. मांगेराम अपनी इसी पार्टी के उम्मीदवार बनकर हर बार चुनाव लड़ते हैं. वो बताते हैं कि उनकी किसान यूनियन पार्टी के साथ करीब 1000 लोग जुड़े हुए हैं. जिनमें ज्यादातर लोग मजदूर हैं.

2019 के लोकसभा चुनावों में मांगेराम फिर चुनाव मैदान में हैं. नामांकन के दौरान अपने हलफनामे में मांगेराम ने बताया है कि उनके पास ना तो कोई कैश है, ना ही उनके बैंक अकॉउंट में एक भी रुपया है. मांगेराम के पास कोई जेवर भी नहीं है. हलफनामे में उन्होंने अपनी पत्नी बबीता चौहान की संपत्ति का जिक्र भी किया है. मांगेराम की ही तरह उनकी पत्नी के पास भी कोई कैश नहीं है.

घर भी ससुरालवालों ने तोहफे में दिया

मांगेराम जिस घर में रहते हैं वो है तो उन्हीं का मगर ससुरालवालों की तरफ से उन्हें गिफ्ट किया गया है. हां, मांगेराम के पास 36 हजार रुपये की एक बाइक जरूर है. चुनावों में एक तरफ तो नेता बड़ी-बड़ी गाड़ियों में रोड शो कर रहे हैं. भारी-भरकम जनसभाएं कर रहे है. जिसमें रोज करोड़ों-अरबों खर्च होते हैं. वहीं दूसरी तरफ मांगेराम पैदल चलकर ही अपना चुनाव प्रचार कर रहे हैं. उनके पास बाइक तो है. लेकिन पेट्रोल भराने के लिए पैसे नहीं हैं.

मांगेराम ने पिछले चुनावों में भी पैदल ही प्रचार किया था. वो कहते हैं कि बड़ी-बड़ी पार्टियां जब चुनाव प्रचार में करोड़ों खर्च करती हैं तो उन्हें आश्चर्य होता है. उनका मानना है कि इन पैसों को गरीब जनता के हित में लगाया जा सकता है. मांगेराम घर-घर तक पहुंचकर लोगों से खुद को वोट करने की अपील कर रहे हैं. वो जबसे चुनाव लड़ रहे हैं. तबसे हार रह हैं. लेकिन इसबार उन्हें लग रहा है कि हालात उनके पक्ष में होंगे. मुजफ्फरनगर में उनका मुकाबला बीजेपी के संजीव बालियान, कांग्रेस से नरेंद्र कुमार और महागठबंधन से अजित सिंह से है.

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.