@AKHILESH YADAV

यूपी में सपा-बसपा गठबंधन में कांग्रेस के न होने से क्या फर्क पड़ेगा ये आंकलन अब बंद हो गया है. अब चुनावी समर में सभी नेता आमने-सामने हैं. अखिलेश ने एक चैनल पर कहा है कि बीजेपी-कांग्रेस एक ही हैं.

जैसे जैसे चुनाव करीब आ रहा है सपा-बसपा गठबंधन कांग्रेस को लेकर तीखे बयान देने लगे हैं. अभी तक मायावती ही कांग्रेस पर हमला बोल रहीं थी अब अखिलेश भी कांग्रेस पर हमलावर हो गए हैं. अखिलेश यादव ने पहली बार कांग्रेस को निशाने पर लिया है. और कांग्रेस के खिलाफ दिया गया है. 17 मार्च को एक टीवी चैनल से बातचीत में अखिलेश ने कहा,

 ‘कांग्रेस और बीजेपी दोनों एक ही हैं। दोनों का सीबीआई को लेकर गठबंधन है।’

एक टीवी चैनल पर अखिलेश यादव ने ये भी कहा है कि उनकी राहुल गांधी से कोई बात नहीं हुई है. अखिलेश ने उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा-आरएलडी गठबंधन के सिर्फ 78 सीटों पर चुनाव लड़ने और कांग्रेस के लिए दो सीटें छोड़ने पर भी प्रतिक्रिया दी और कहा कि अमेठी और रायबरेली की सीट राजनीतिक शिष्टाचार के तहत छोड़ी है.

अखिलेश यादव 2019 के लोकसभा चुनाव में आजमगढ़ से चुनाव लड़ेंगे. ये वही सीट है जहां से 2014 में उनके पिता मुलायम सिंह यादव जीते थे. अखिलेश यादव ने कहा है कि आजमगढ़ समाजवादी पार्टी का दूसरा घर है. अखिलेश यादव ने ये भी साफ कर दिया है कि अपर्णा चुनाव नहीं लड़ेगीं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.