महाराष्ट्र: अपनी मांगों को लेकर किसानों का मार्च और मोदी की बढ़ेगी मुश्किल

महाराष्ट्र में एक बार फिर से किसान सड़कों पर है. किसानों अपनी मांगों मनवाने के लिए हुंकार भर दी है. किसानों की नाराजगी बीजेपी सरकार और खासकर पीएम मोदी के लिए मुश्किलें खड़ी सकती है.

21 फरवरी से शुरु हो रहे किसानों के इस मार्च में महाराष्ट्र के करीब 23 जिलों के किसान शामिल हो रहे हैं. ये किसान अखिल भारतीय किसान सभा के नेतृत्व में नासिक से मुंबई तक करीब 180 किलोमीटर लंबा मार्च करेंगे और इसके लिए नासिक से करीब 50 हजार किसान मुंबई कूच करेंगे.

एक साल के भीरत महाराष्ट्र में किसानों का ये दूसरा बड़ा मार्च है. केंद्र और राज्य सरकार की नीतिया से नाराज किसान खेतों को छोड़कर सड़कों पर हैं और बीजेपी सरकार का अगला कदम क्या होगा ये अहम हो गया है. क्योंकि पिछले साल मार्च भी भी ये किसानों ने आंदोलन किया था.

कर्ज़माफ़ी, फ़सल बीमा, फ़सलों की उचित कीमत जैसी मांगों को लेकिन ये किसान मार्च निकाल रहे हैं. किसानों का कहना है कि अगर उनकी मांगे सरकार ने नहीं मानी तो चुनाव में इसका खामियाजा बीजेपी को चुकाना पड़ेगा.

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.