प्रियंका गांधी: ‘ब्रह्मास्त्र’ साबित होगा राहुल का ‘प्रिय’ बाण ?

नई दिल्ली: राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव से पहले ब्रह्मास्त्र का इस्तेमाल किया है. कांग्रेस की ख्वाहिशों को परवाज देने के लिए कांग्रेस ने बड़ा फैसला किया है और प्रियंका गांधी वाड्रा को बनाया पार्टी महासचिव बना दिया है. प्रियंका गांधी को पूर्वी उत्तर प्रदेश की कमाम सौंपी गई है.

फरवरी के पहले हफ्ते में उत्तर प्रदेश (पूर्व) के महासचिव का जिम्मा संभालेंगी. ज्योतिरादित्य सिंधिया को भी यूपी में बुला लिया गया है और उन्हें पश्चिमी उत्तर प्रदेश के लिए महासचिव प्रभारी नियुक्त किया गया है.

अशोक गहलोत की जगह केसी वेणुगोपाल कांग्रेस के महासचिव नियुक्त किए गए हैं. गुलाम नबी आजाद हरियाणा के महासचिव – प्रभारी नियुक्त किए गए. लेकिन सबसे ज्यादा चर्चा प्रियंका गांधी की हो रही है.

लंबे इंतजार के बाद आखिरकार प्रियंका गांधी की एक्टिव पॉलिटिक्स में एंट्री हो रही है और आने वाले चुनाव में ये राहुल का ‘प्रिय’ बाण हो सकता है. क्योंकि लंबे वक्त तक पर्दे के पीछे से पार्टी के लिए काम करने वाली प्रियंका अब पर्दे पर आ गई हैं.

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए पूर्वी उत्तर प्रदेश की जिम्मेदारी संभालकर प्रियंका उस सूबे में कांग्रेस को दम देंगी. प्रियंका की तुलना अक्सर उनकी दादी इंदिरा गांधी से होती है. प्रियंका का हेयरस्टाइल, कपड़ों के चयन और बात करने के सलीके में इंदिरा गांधी की छाप साफ नजर आती है. 16 साल की उम्र से राजनीति का क ख ग सीख रही प्रियंका अपने भाई की मदद के लिए तैयार हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.