‘नरेंद्र मोदी स्टेडियम’ से क्या हासिल करना चाहती है भारतीय जनता पार्टी

दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम का नाम अब प्रधानमंत्री नरेेंद्र मोदी के नाम पर रख दिया गया है. पहले इसका नाम सरदार पटेल स्टेडियम था. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मोटेरा के क्रिकेट स्टेडियम का उदघाटन किया है.

दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम का नाम अब प्रधानमंत्री नरेेंद्र मोदी के नाम पर रख दिया गया है. पहले इसका नाम सरदार पटेल स्टेडियम था. इस स्टेडियम में भारत और इंग्लैंड के बीच चार टेस्ट मैचों की टेस्ट सिरीज़ का तीसरा मैच खेला जाना है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मोटेरा के क्रिकेट स्टेडियम का उदघाटन किया है. इस मौके पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, गुजरात के राज्यपाल अचार्य देवव्रत, खेल मंत्री किरण रिजीजू और बीसीसीआई के सचिव जय शाह मौजूद थे.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इस मौके पर कहा है कि भारत को ‘पावर हाउस ऑफ क्रिकेट’ अथवा ‘हब ऑफ क्रिकेट’ कहा जाता है. इसीलिए, यह सर्वथा उपयुक्त है कि विश्व का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम भी अब हमारे देश में ही है. इस मौके पर गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि सरदार वल्लभ भाई स्पोर्ट्स इनक्लेव और नरेंद्र मोदी स्टेडियम के साथ-साथ नाराणपुरा में भी स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स तैयार किया जाएगा. ये तीनों ही किसी भी अंतरराष्ट्रीय खेल आयोजन को करने में सक्षम होंगे. अहमदाबाद को भारत के ‘स्पोर्ट्स सिटी’ के तौर पर जाना जाएगा.

यह भी पढ़ें:

अपनी राय हमें [email protected] के जरिये भेजें. फेसबुक और यूट्यूब पर हमसे जुड़ें |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *