सरहदी जिलों में सक्रिय हुई सपा, सत्ता में वापसी के लिए बन रही है सॉलिड रणनीति

समाजवादी पार्टी ने शुरू की चुनाव की तैयारी

समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव युवा जोश और वरिष्ठ नेताओं के अनुभव का संगम करके 2022 में सत्ता वापसी की तैयारी कर रहे हैं. सपा ने जिलों में अपने संगठन को मजबूत करना शुरु कर दिया है. इसी कड़ी में सरहदी जिले बहराइच और श्रावस्ती में सपा कार्यकर्ताओं की सक्रियता बढ़ गई है. बहराइच में जिलाध्यक्ष रामहर्ष यादव ने  जिले के सभी वरिष्ठ और युवाओं नेताओं के साथ मंथन किया. वहीं श्रवास्ती में भी नवनिर्वाचित जिला अध्यक्ष सर्वजीत यादव ने युवा नेताओं से मुलाकात की.

समाजवादी पार्टी की ये अच्छी तरह जानती है कि अगर 2022 में बीजेपी को सत्ता से उखाड़ना है तो कई मोर्चों पर प्लानिंग करनी होगी. यही कारण है कि पार्टी मुखिया अखिलेश यादव एक एक कार्यकर्ता को वीडियो कॉल करके ये अहसास दिला रहे हैं कि वो उनसे जुड़े हुए हैं. बीजेपी के मजबूत सांगठनिक ढांचे को चुनाव में चित करने के लिए समाजवादी पार्टी के बहराइच जिला ईकाई ने प्लानिंग को अमल में लाने का काम शुरु भी कर दिया है. जिलाध्यक्ष ने समाजवादी पार्टी बहराइच के वरिष्ठ नेताओं,  विधायक, पूर्व विधायक और पार्टी  के पूर्व प्रत्याशियों के अलावा युवा नेताओं के साथ भी मंथन चिंतन किया.

बैठक में इस बात पर चर्चा की गई कि सत्ता पक्ष को कैसे घेरना है और अपने पक्ष में माहौल कैसे मोड़ना है. आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर पार्टी अपनी तैयारियों में कोई कसर नहीं चाहती इसलिए सभी कार्यकर्ताओं को ये निर्देश दिए गए हैं कि वो जमीन पर जोरदार काम करें. इतना ही नहीं राजनीति कि बदली हुई परिस्थियों के साथ तालमेल बैठाने को लेकर भी चर्चा हुई है. पार्टी के जिलाध्यक्ष राम हर्ष यादव ने कहा कि ‘भारतीय जनता पार्टी की केन्द्र व प्रदेश की सरकार कोविड 19 की महामारी से निपटने में पूरी तरह से विफ़ल रही है. सरकार इस बीमारी से निपटने के लिए शुरुआती दौर में चिकित्सीय प्रबंधन के बजाय पाखंड पूर्ण ढकोसला करती रही. सरकारी अस्पतालों में आपातकालीन सेवाएँ ठप्प हैं. ओपीडी बन्द होने के चलते गरीब भटक रहा है.

बैठक में इस बात पर भी चर्चा हुई कि पैट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर सरकार को कैसे घेरना है? सपा कार्यकर्ताओं को स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं कि वो बीजेपी की कारगुजारियों को गांव गांव जाकर बताएं. बैठक का संचालन जफ़र उल्ला खान बन्टी (निवर्तमान महामन्त्री) ने किया. इस अवसर पर एमएलसी हाजी इमलाक खान, अध्यक्ष जिला पंचायत नदीम मन्ना, पूर्व विधायक शव्वीर बालिमीकि, पूर्ब मन्त्री बन्शीधर बौध, पूर्व विधायक के.के ओझा, पूर्व प्रत्याशी राजेश तिवारी, किरन बाला भारती, कुलदीप यादव, राकेश टेकरीवाल, रितेश अग्रवाल जिला सोशल मीडिया प्रभारी अर्जुन गुप्ता मौजूद रहे. इस मौके पर पार्टी कार्यालय के संचालन हेतु पूर्व मन्त्री विधायक मटेरा यासर शाह की ओर से आर्थिक सहयोग निवर्तमान कोषाध्यक्ष अब्दुल मन्नान प्रदान किया गया. इसके अतिरिक्त पूर्व विधायक शव्वीर अहमद, के.के ओझा ने भी पार्टी का हर तरह से सहयोग करने की बात कही.

श्रावस्ती में भी सपाई हुए सक्रिय

बहराइच की तरह श्रावस्ती में भी सपाई सक्रिय हो गए हैं. जिले में नवनिर्वाचित जिलाध्यक्ष सर्वजीत यादव को युवा नेता नृपेंद्र कलहँस ने मिठाई खिलाकर बधाई दी और हर कदम पर सहयोग देने का वादा किया. उन्होंने कहा कि जनपद में सपा कार्यकर्ताओं पर फर्जी केस हो रहे हैं. प्रशासन कार्यकर्ताओं से बदसलूकी कर रहा है. नृपेंद्र के मुताबिक समाजवादी कार्यकर्ता जब सत्ता से सवाल पूछता है तो उसपर फ़र्ज़ी मुकदमे और सत्ताधारी नेताओं से जबरन उसको प्रताड़ित करवाया जाता है. जनपद में अवैध खनन और अवैध कब्जा अपने चरम पर है. ये प्रशासन की मिली भगत से हो रहा है. मल्हीपुर मार्ग की समस्याएं भी किसी से छिपी नहीं हैं. इन तमाम मुद्दों को लेकर श्रावस्ती में सपा सड़कों पर उतरेगी. समाजवादी पार्टी का एजेंडा साफ हो गया है और अब एक्शन की बारी है.

ये भी पढ़ें:

रिपोर्ट: सय्यद रेहान कादरी

अपनी राय हमें [email protected] के जरिये भेजें. फेसबुक और यूट्यूब पर हमसे जुड़ें |

Leave a Reply

Your email address will not be published.