#KeralaFloods : बाढ़ से मचे हाहाकार को देखकर आप दहल जाएंगे !

केरल इस वक्त बाढ़ की चपेट में है. राज्य में आम जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है और राज्य के 14 जिलों बाढ़ से प्रभावित हैं. सरकारी आकंड़ों के मुताबिक बाढ़ की वजह से अभी तक 88 लोगों की मौत हो चुकी है और 8 अगस्त के बाद 40 से ज्यादा लोग लापता हुए हैं.

#KeralaFloods :  बाढ़ और बारिश की वजह से केरल में 8 से 12 अगस्त के बीच 88 लोगों की मौत हुई है. कई लोगों की मौत तो भूस्‍खलन की वजह से हुई है. केरल के कोट्टाकुन्नू के पास बचावकर्मी एक मृत मां और उसके मृत बच्चे के मर्मस्पर्शी दृश्य को देखकर खुद के आंसू रोक नहीं पाए. क्योंकि मां ने आखिरी वक्त तक अपने बच्चे को बचाने की कोशिश की.

तस्वीरें जो रूला देंगी!

इस पूरे इलाके में दो पहले भयानक बाढ़ आई थी. बचाव कार्य एवं तलाश अभियान में जुटे कर्मियों ने कोट्टाकुन्नू के पास महिला और उसके बच्चे का शव मिला है. मृत मां ने अपने कलेजे के टुकड़े के हाथ को कसकर पकड़ा हुआ था. मां और बेटे के मृत शरीर का ये दृश्‍य देख बचावकर्मी भी रो पड़े.

सोशल मीडिया पर लोग बाढ़ की तस्वीरें डालकर मदद की अपील कर रहे हैं. केरल से जो वीडियो सामने आए हैं उन्हें देखकर आप अंदाजा लगा कसकते हैं कि हालात कितने भयानक हैं.

वायनाड पहुंचे राहुल गांधी

बाढ़ की चपेट में कांग्रेस नेता राहुल गांधी का संसदीय क्षेत्र वायनाड भी है. राहुल गांधी ने भी वायनाड पहुंचकर केरल वासियों की मदद की अपील की है. राहुल गांधी ने कहा है कि जब तक हालात सामान्य नहीं हो जाते वो वायनाड में ही रहेंगे. उन्हें जिला कलक्टर से मिलकर बाढ़ के हालात पर चर्चा की है.

#KeralaFloods : केरल सरकार ने टोल फ्री नंबर जारी किए हैं जिसके जरिए लोग अपने की खोज खबर कर रहे हैं. लोगों का कहना है कि इस साल भी पिछली बार की तरह बाढ़ व्यापक तबाही करके जाएगी. हालात सिर्फ केरल में ही खराब नहीं है.

कर्नाटक में भी की वजह से 1 अगस्त 2019 के बाद से अबतक 40 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं और 14 लोग लापता हैं. वहीं 5,81,702 लोगों को निकाला गया, कर्नाटक के 17 जिले और 2028 गांवों में राहत शिविरों बनाए गए हैं.

देश के कई राज्य इस वक्त बाढ़ की चपेट में हैं जिसमें महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल और गुजरात शामिल है. इन राज्यों में अब तक 200 से ज्यादा लोगों की मौत हुई है और 10 लाख से अधिक लोग राहत शिविरों में शरण लिए हुए हैं.

ये भी पढ़ें:

भारत सरकार और राज्य सरकारें लोगों की सुरक्षित जगह पर पहुंचाने और बाढ़ की वजह से हो रहे नुकसान की भरपाई करने क लिए लगातार जुटी हुई हैं.

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.