धारा 370 : राहुल गांधी का बयान और कांग्रेस की बेचैनी

कांग्रेस धारा 370 को लेकर जो स्टैंड ले रही है उससे उसकी किरकिरी हो रही है. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने धारा 370 पर केंद्र सरकार के फैसले की आलोचना करते हुए इसे सत्ता का दुरूपयोग बताया है.

राहुल गांधी ने धारा 370 को हटाने के फैसले के एक दिन बाद ट्रवीट करके प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है कि ”राष्ट्रीय एकता का विस्तार जम्मू-कश्मीर को एकतरफ़ा बाँटने से नहीं होगा. चुने हुए प्रतिनिधियों को जेल में बंद करना हमारे संविधान का उल्लंघन है. इस राष्ट्र का निर्माण यहां के लोगों से हुआ है न कि धरती के टुकड़े से. यह कार्यकारी शक्तियों का दुरुपयोग है और यह हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए चिंताजनक है.”

राहुल गांधी की इस प्रतिक्रिया के बाद कांग्रेसी ही चक्कर में पड़ गए हैं. राहुल गांधी की प्रतिक्रिया आने से पहले धारा 370 के मामले पर कांग्रेस नेताओं के बीच भी मतभेद था. कांग्रेस की तरफ से राज्यसभा में गुलाम नबी आजाद और पी चिदंबरम ने इसका जोरदार विरोध किया था. हां इस मसले पर राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने थोड़ी देर से टिपप्णी की. कांग्रेस के कुछ नेताओं ने धारा 370 को हटाने के फैसले का खुलकर स्वागत किया है.

इतना ही हीं कांग्रेस के रुख से नाराज होकर पार्टी के चीफ़ व्हिप भुवनेश्वर कलिता ने राज्यसभा और कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया. उन्होंने कहा है कि कश्मीर मुद्दे पर कांग्रेस ने व्हिप जारी करने के लिए कहा था. उन्होंने कहा है कि पार्टी को जो मूड है वो देश के मूड से एकदम अलग है और कांग्रेस आत्महत्या कर रही है. उन्होंने साफ कहा कि कांग्रेस का खत्म होने से कोई नहीं बचा सकता है.

कांग्रेस के एक और वरिष्ट नेता जनार्दन द्विवेदी ने भी बीजेपी का धारा 370 पर समर्थन किया. उन्होंने कहा है कि 370 इतिहास की एक गलती थी, जिसे सही कर दिया गया है. आपको बता दें कि कांग्रेस वर्किंग कमिटी से जनार्दन द्विवेदी को बाहर कर दिया गया था. धारा 370 पर उन्होंने साफ कहा है कि कश्मीर से धारा 370 का हटाया जाना एक सही कदम है जिसकी लंबे वक्त से मांग की जा रही थी.

इतना ही नहीं रायबरेली से कांग्रेस की विधायक अदिति सिंह ने भी अनुच्छेद 370 के समर्थन में ट्वीट किया. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है, ”हम अनुच्छेद 370 पर सभी एक साथ हैं. जय हिन्द.” इस ट्वीट पर लोगों ने अदिति सिंह से पूछा कि आप तो कांग्रेसी हैं. इस पर अदिति ने कहा कि वो हिन्दुस्तानी हैं. ट्विटर पर ज़्यादातर लोगों ने अदिति सिंह की प्रशंसा की है. कुल मिलाकर इस मुद्दे पर राहुल गांधी अकेले पड़ गए हैं. या यूं कह सकते है कि कांग्रेस अभी भी देश का मूड समझ नहीं पाई है.

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.