तबरेज की हत्या के बाद दो अधिकारी सस्पेंड, पांच आरोपी गिरफ्तार

झारखंड : तबरेज की हत्या के बाद दो अधिकारी सस्पेंड, पांच आरोपी गिरफ्तार

झारखंड में तबरेज नाम के शख्स की ‘मॉब लिंचिंग’ के बार प्रशासन के कार्रवाई की है. पुलिस ने इस मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है और दो अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया गया है.

  • झारखंड में पिछले मंगलवार को मोटरसाइकिल चोरी करने के आरोप में 24 साल तबरेज अंसारी की भीड़ ने पिटाई कर दी थी और इससे उसकी मौत हो गई थी.

इस घटना के बाद पूरे देश में झारखंड सरकार की आलोचना हो रही है. झारखंड में मॉब लिंचिंग की घटना होने के बाद तबरेज अंसारी के एक रिश्तेदार ने बताया कि अंसारी बीते मंगलवार को अपने कुछ दोस्तों के साथ जमशेदपुर से सरायकेला खरसावां जिले के धतकिडिह गांव गया था. इसी दौरान उसके घर से करीब पांच किलोमीटर दूर भीड़ ने उस पर हमला किया. 

भीड़ ने तबरेज के ऊपर ये आरोप लगाया कि उसने मोटरसाइकिल चोरी की है. भीड़ ने उसे एक खंभे से बांध दिया और कई घंटों तक उसकी लाठियों से पिटाई की. इस घटना का वीडियो वायरल हुआ था. जिसमें उसकी पिटाई करने वाले उससे ‘जय श्रीराम’ और ‘जय हनुमान’ के नारे लगवा रहे हैं. जब वह बेहोश हो गया तो उसे पुलिस के सुपुर्द कर दिया गया.

तबरेज की शादी हो चुकी है और उसकी पत्नी शाहिस्ता परवीन ने कहा है कि

”उसे नृशंसता पूर्वक पीटा गया क्योंकि वह मुस्लिम था. मेरा कोई नहीं है, ससुराल का भी कोई नहीं. मेरा पति ही मेरा अकेला सहारा था. मैं न्याय चाहती हूं.”

शनिवार को चार दिन की पुलिस हिरासत के बाद जब उसे अस्पताल ले जाया गया तो उसे मृत घोषित कर दिया गया. तबरेज के परिवार का कहना है कि पुलिस ने तबरेज का इलाज नहीं कराया. परिवार को उससे मिलने भी नहीं दिया. बताया जा रहा है कि तबरेज की अस्पताल जाने से काफी समय पहले मर चुका था. उसके परिवार ने पुलिस और डॉक्टरों समेत मामले में लिप्त सभी लोगों पर कार्रवाई की मांग की है. 

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.