सचिन पायलट साहेब बताएं की मेरा बेटा क्यों हारा : अशोक गहलोत

Sachin-pilot-ashok-gehlot-rahul-gandhi-congress-in-rajasthan

लोकसभा चुनाव में करारी शिकस्त के बाद कांग्रेस के हार के कारणों पर मंथन कर रही है. कांग्रेस को उन तीन राज्यों में भी बुरी हार का सामना करना पड़ा जिन राज्यों में पिछले साल उसे जीत मिली थी. राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में मिली हार के कारणों में एक कारण ये भी माना जा रहा है कि यहां आपसी दरार के कारण कांग्रेस की हार हुई है.

लोकसभा चुनाव में हार के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की राजस्थान और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्रियों से नाराज़गी की ख़बरें आई थीं. अब राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने बेटे वैभव गहलोत की जोधपुर सीट से हार के लिए सचिन पायलट को भी जिम्मेदार ठहराया है. एबीपी न्यूज़ को दिए इंटरव्यू में अशोक गहलोत ने कहा,

”सचिन पायलट को इस हार की ज़िम्मेदारी लेनी चाहिए.सचिन पायलट ने गहलोत के इस बयान पर हैरानी जताते हुए प्रतिक्रिया देने से इनकार किया है.पायलट साहेब ने कहा था कि मेरा बेटा वैभव जोधपुर से बड़े अंतर से जीतेगा. इस लोकसभा क्षेत्र में हमारे छह विधायक हैं और हमारा चुनावी प्रचार वहां शानदार था. इसलिए मुझे लगता है कि पायलट को कम से कम इस सीट की ज़िम्मेदारी लेनी चाहिए. जोधपुर सीट का पूरा पोस्टमॉर्टम किया जाना चाहिए कि आख़िर हम वहां जीते क्यों नहीं?”

कांग्रेस राजस्थान की सभी 25 सीटों पर हार गई और इसके बाद राहुल गांधी राज्य के सभी नेताओं से नाखुश चल रहे हैं. गहलोत ने कहा है कि ‘पायलट ने कहा था कि हम जोधपुर जीत जीत रहे हैं. इसलिए वैभव को पार्टी से टिकट मिला. हम 25 की 25 सीटें हार गए. अगर कोई कहता है कि मुख्यमंत्री या पीसीसी प्रमुख को ज़िम्मेदारी लेनी चाहिए तो मेरा मानना है कि ये सबकी ज़िम्मेदारी है.’ ऐसे वक्त में जब कांग्रेस के भीतर सुधार की प्रक्रिया की बात की जा रही है इसलिए राहुल गांधी को उन राज्यों के नेतृत्व पर ध्यान देना होगा जहां पर बीजेपी और कांग्रेस की सीधी टक्कर है.

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.