कौन है हिममानव ‘येती’, भारतीय सेना ने जारी की तस्वीरें

HIMMANAV

सांकेतिक तस्वीर

हिममानव ‘येती’ को लेकर बहस फिर से शुरु हो गई है. भारतीय सेना के पर्वतारोहण अभियान की टीम ने दावा किया है कि रहस्यमय ‘येती’ के पैरों के निशान मिले हैं.

भारतीय सेना ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल कुछ तस्वीरें जारी करते हुए दावा किया है बर्फ पर बड़े बड़े पैरों के निशान देखे गए हैं.

ADGPI का दावा है कि मकालू बेस कैंप में 9 अप्रैल को जो तस्वीरें खींची गईं उसमें ‘येती’ के पैरों के निशान देखे गए हैं. ये पैरों के निशान 32×15 इंच के हैं. सेना के मुताबिक़,

‘मकालू बारुण के नेशनल पार्क में ये कम दिखने वाला हिममानव पहले भी देखा गया गया है’

कौन है रहस्यमय हिममानव ‘येती’?

‘येती’ से कई कहानियां जुड़ी हैं जिसमें तिब्बत और नेपाल की लोकप्रिय काल्पनिक कथाएं शामिल हैं. यहां कहा जाता है कि

‘एशिया के सुदूर पर्वतीय इलाकों में दैत्याकार बंदर जैसे जीव रहते हैं, जिन्हें येती या हिममानव कहा जाता है.

ऐसा नहीं है कि ‘येती’ के देखे जाने का दावा पहली बार किया गया है. सालों से लोग ‘येती’ के होने या देखे जाने का दावा कर रहे हैं.

2013 में ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में की रिसर्च में ये दावा किया गया था कि हिमालय के मिथकीय हिम मानव ‘येती’ भूरे भालुओं की ही एक उप-प्रजाति के हो सकते हैं.

अमरीकी जीवविज्ञानी शॉर्लट लिंडक्विस्ट ने भी इस बारे में कुछ काम किया है. उन्होंने येती के अवशेषों का डीएनए टेस्ट के ज़रिए विश्लेषण किया था.

इन अवशेषों में तिब्बत के हिमालयी इलाकों से मिले हाथ, दांत, हाथ की त्वचा, बाल और मल के नमूने शामिल थे.

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.