अब प्रियंका गांधी ने बताया मोदी के खिलाफ क्यों नहीं लड़ा चुनाव ?

PRIYANKA GANDHI

वाराणसी लोकसभा सभा सीट पिछले कुछ समय से काफी चर्चा में है. यहां से पीएम मोदी एक बार फिर से मैदान में हैं. पहले ऐसी चर्चा थी कि यहां से कांग्रेस प्रियंका गांधी को टिकट दे सकती है लेकिन आखिरी वक्त में यहां से अजय राय को टिकट दे दिया है. प्रियंका ने खुद कई बार वाराणसी से चुनाव लड़ने के लिए इच्छा जताई थी लेकिन वो यहां से क्यों नहीं लड़ीं इसका खुलासा उन्होंने खुद किया है.

नरेंद्र मोदी वारणसी से चुनाव जीतकर पहली बार सांसद और देश के प्रधानमंत्री बने थे. उसके बार से ये इलाका सियासी तौर पर सुर्खियों में बना रहा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव नहीं लड़ने को लेकर पहली बार खुद प्रियंका गांधी ने बयान दिया है. इससे पहले उन्होंने कहा था कि यदि पार्टी चाहेगी तो वे जरूर चुनाव लड़ेंगी, लेकिन बाद में पार्टी नेताओं ने कहा कि चुनाव नहीं लड़ने का फैसला खुद प्रियंका ने लिया है. रिपोर्ट्स के मुताबिक उन्होंने कहा,

मेरे कंधों पर पूरे उत्तर प्रदेश में 41 सीटों की पर पार्टी को जिताने की जिम्मेदारी है। एक स्थान पर रहकर ऐसा संभव नहीं था।’

प्रियंका के चुनाव लड़ने पर इससे पहले उनके खुद के बयानों, राहुल गांधी के सस्पेंस छोड़ने और कांग्रेस प्रवक्ता दीपक सिंह के बयानों से चर्चाएं तेज हो गई थीं कि उन्हें वाराणसी से चुनाव लड़ाया जाएगा. इससे पहले उन्हें रायबरेली से चुनाव लड़ाने की भी चर्चाएं तेज हुई थीं. खबर ये आ रही है कि प्रियंका को जो जिम्मेदारी सौंपी गई है वो उसी पर फोकस करना चाहती हैं.

पीएम की जाति पर भी दिया बयान

कांग्रेस महासचिव ने ये भी बताया कि पीएम की जाति क्या है इसके बारे में उन्हें नहीं पता है. मेरे ख्याल से विपक्ष ने कभी इस तरीके से बात नहीं की. उन्होंने ये भी कहा है कि कांग्रेस विकास के मुद्दे पर चुनाव लड़ रही है जाति पात के मुद्दे पर नहीं.

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.