‘इलेक्शन कमीशन ठीक से काम नहीं कर रहा’, राष्ट्रपति तक पहुंची शिकायत

election commission

देश के 66 पूर्व नौकरशाहों ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को एक चिट्ठी लिखकर इलेक्शन कमीशन की शिकायत की है. पत्र में कहा गया है कि “चुनाव आयोग की स्वतंत्रता, निष्पक्षता और इसकी दक्षता के साथ आज समझौता किया जा रहा है, जो कि देश में मतदान प्रक्रिया की अखंडता और भारतीय लोकतंत्र की नींव है.

इलेक्शन कमीशन की कार्यप्रणाली सवालों के घेरे में हैं. विपक्षी नेता तो इलेक्शन कमीशन पर उंगली उठा ही रहे हैं अब तो  देश के 66 पूर्व नौकरशाहों ने भी ईसी के कामकाज पर सवाल खड़े किए हैं. इन रिटायर्ड अधिकारियों ने चुनाव आयोग की कार्यशैली से नाराजगी जाहिर करते हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र लिखा है.पत्र में रिटायर्ड अधिकारियों ने राजनेताओं द्वारा आदर्श चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन किए जाने का उल्लेख किया गया है.

किन नौकरशाहों ने लिखी चिट्ठी

जिन नौकरशाहों ने राष्ट्रपति को चिट्ठी लिखी है उनमें पूर्व आईपीएस अधिकारी जूलियो रिबेरो, पूर्व विदेश सचिव शिव शंकर मेनन और दिल्ली के पूर्व एलजी नजीब जंग भी शामिल हैं. इसके अलावा ट्राई के पूर्व चेयरमैन राहुल खुल्लर, पूर्व स्वास्थ्य सचिव केशव देसीराजू, प्रसार भारती के पूर्व सीईओ जवाहर सरकार और पूर्व आईपीएस अधिकारी मीरान बोरवंकर ने भी उस चिट्ठी पर हस्ताक्षर किए हैं. चिट्ठी में लिखा है,

चुनाव आयोग की स्वतंत्रता, निष्पक्षता और इसकी दक्षता के साथ आज समझौता किया जा रहा है, जो कि देश में मतदान प्रक्रिया की अखंडता और भारतीय लोकतंत्र की नींव है। हम इस बात से व्यथित हैं कि केन्द्र में सत्ताधारी पार्टी द्वारा आदर्श चुनाव आचार संहिता का दुरुपयोग और उसकी स्पष्ट अवहेलना की जा रही है, और चुनाव आयोग द्वारा इस दिशा में कोई कदम नहीं उठाया जा रहा है।

इन नौकरशाहों ने कहा है कि इलेक्शन कमीशन इन राजनीतिक पार्टियों से निपटने में नाकाम रहा है. राष्ट्रपति को लिखी चिट्ठी में कई ऐसी घटनाओं का जिक्र किया गया जो आचार संहिता का उल्लंघन हैं. इसमें पीएम मोदी द्वारा ASAT लॉन्चिंग के मौके पर देश के नाम संबोधन भी शामिल है. नौकरशाहों ने कहा है कि आचार संहिता लागू होने के बावजूद पीएम मोदी के जीवन पर आधारित फिल्म, एक वेब सीरीज को लॉन्च किए जाने, नमो टीवी के प्रसारण और प्रधानमंत्री और अन्य भाजपा नेताओं द्वारा दिए जा रहे भड़काऊ बयानों का भी जिक्र किया गया है.

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.