मोदी ‘मैजिक’ से नहीं नए चेहरों के दम पर चुनाव जीतेगी बीजेपी !

लोकसभा चुनाव का एलान होने के बाद अब राजनीतिक पार्टियां उम्मीदवारों के एलान पर फोकस कर रही हैं. बीजेपी ने उम्मीदवारों का एलान करने के लिए जो तैयारी की है उससे ये साफ हो जाता है कि बीजेपी मोदी मैजिक के सहारे नहीं बल्कि नए चेहरों के दम पर चुनाव जीतने की कोशिश कर रही है.

ये भी पढें:

40 फीसदी नए चेहरों पर दांव

खबर ये है कि बीजेपी इस बार लोकसभा चुनाव में 40 फीसदी नए चेहरों को टिकट देना चाहती है. अमर उजाला की खबर के मुताबिक पार्टी के एक वरिष्ठ नेता का दावा है कि लगभग 40 फीसदी सीटों पर नए चेहरे उतारे जाने की संभावना है. बीजेपी ये फैसला केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में करेगी. पहले चरण में 11 अप्रैल को होने वाले चुनाव के लिए 91 उम्मीदवारों के नामों की सूची भी इसी बैठक में फाइनल हो जाएगी.

उम्मीदवारों को मिले प्रचार का मौका

बीजेपी की कोशिश है कि वो आने वाले चुनाव में पहले चरण के 91 उम्मीदवारों को चुनाव में प्रचार का पूरा मौका देना चाहते हैं लिहाजा वो जल्द से जल्द इसका एलान करेगी. बालाकोट एयरस्ट्राइक के बाद मोदी की हवा बनने का दावा किया जा रहा है और कुछ सर्वे में आया है कि मोदी की लोकप्रियता बढ़ी है. वह उन सांसदों का टिकट काटने पर विचार कर रही है, जिनके खिलाफ सत्ता विरोधी लहर है.2014 में जो चेहरे मोदी लहर के सहारे संसद में पहुंचे थे उनका टिकट कट सकती है.

सर्वे के आधार पर उम्मीदवारों का चयन

चुंकि इस वक्त 12 राज्यों में बीजेपी सरकारें हैं और सत्ता विरोध लहर का खामियाजा बीजेपी को उठाना पड़ सकता है. बीजेपी, संघ और निजी सर्वे एजेंसियों के जरिये सभी 272 सांसदों के प्रदर्शन का आकलन कराया था जिसके हिसाब से ही पार्टी उम्मीदवारों के नामों पर विचार कर रही है. बीजेपी ने हर सीट पर वर्तमान विधायक, पूर्व विधायक, पूर्व सांसद, जिला अध्यक्ष, जिला संगठन मंत्री और राज्य संगठन मंत्री की राय ली गई थी. खबर है कि यूपी में भी आधे से ज्यादा नए चेहरों को मौका मिल सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.