BJP सांसद और विधायक के बीच चले जूते, एक दूसरे को दी गईं मां बहन की गालियां

उत्तरप्रदेश के संतकबीरनगर जिले में निगरानी सतर्कता कमेटी की बैठक में बीजेपी सांसद और विधायक के बीच जूते चल गए है. इतना ही नहीं दोनों ने एक दूसरे को मां बहन की गालियां दी गईं.

योगी सरकार के प्रभारी मंत्री आशुतोष टंडन के सामने मेहदावल विधायक और स्थानीय सांसद शरद त्रिपाठी के बीच जूतम पैजार हुई. ना सिर्फ जूतम पैजार हुई बल्कि एक दूसरे को भद्दी भद्दी गालियां दी गईं. सांसद शरद त्रिपाठी ने मेहदावल विधायक राकेश सिहं बघेल को सभागार में जूतों से जमकर पीटा. ये सभी नेता और जिले के सभी अधिकारी जिले में निगरानी सतर्कता कमेटी की बैठक में पहुंचे हुए थे.

यह मामला कोतवाली क्षेत्र के कलेक्ट्रेट सभागार का है. जहां पर सांसद शरद त्रिपाठी और मेहदावल विधायक राकेश सिंह बघेल मौजूद थे. जिस समय यह वाकया हुआ, मौके पर प्रभारी मंत्री भी मौजूद रहे. सांसद शरद त्रिपाठी ने श्रेय लेने के चक्कर में अपनी ही पार्टी के विधायक को जूता निकालकर मारा.

शिलापट पर नाम न होने पर नाराज़ सांसद ने विधायक को गुस्सा आ गया था. इसके बाद विधायक समर्थकों ने कलेक्टर दफ्तर को घेर लिया है और कहा कि बदला जरूर लेंगे. विधायक समर्थकों ने सांसद शरद त्रिपाठी को कलेक्टर के कमरे में बंद कर दिया है. इस घटना के बाद दोनों पक्षों में तनाव है. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा सांसदों और विधायकों में जूतम-पैजार पर तंज किया है.

इस घटना के बाद बीजेपी विपक्ष के निशाने पर आ गई है. उत्तर प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा है कि,

‘हमने इस घटना का संज्ञान लिया है और दोनों को लखनऊ तलब किया गया है. सख्त अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी.’

Leave a Reply

Your email address will not be published.