Pulwama Attack: आतंकवाद से निपटने के लिए किसने उठाई ‘मुस्लिम रेजिमेंट’ की मांग?

पुलवामा आंतकी हमले के बाद पूरे देश में आक्रोश है. लोग अपने अपने हिसाब से भारत सरकार को बता रहे हैं कि आतंकवादियों को कैसे खत्म किया जा सकता है. एक पूर्व विधायक ने मांग की है पाकिस्तान पर हमले के लिए मुस्लिम रेजिमेंट बनाई जाए.

ये भी पड़े:

Pulwama Attack: मुस्लिम धर्मगुरु और मालेगांव के पूर्व विधायक मुफ्ती इस्माइल कासमी ने कहा है कि पाकिस्तान पर हमला करने के लिए सेना में एक स्पेशल मुस्लिम रेजिमेंट बनानी चाहिए. पूर्व विधायक ने कहा कि अगर सरकार उनकी इस मांग को स्वीकार करती है तो वो 25 हजार मुस्लिमों की फोर्स जुटाएंगे. कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले के बाद इस्माइल ने ये मांग की है. उन्होंने कहा है,

पाकिस्तान ने जो किया वह जघन्य और इस्लाम के खिलाफ है। अगर यह हिंसा इस्लाम और मुसलमानों के नाम पर की जा रही है तो मैं भारत सरकार से गुजारिश करुंगा कि वो मुस्लिम रेजिमेंट बनाने में मदद करे जो पाकिस्तान के खिलाफ इस लड़ाई को लड़ेगी। मैं व्यक्तिगत रूप से इस रेजिमेंट में अकेले मालेगांव से 25,000 मुस्लिम पुरुषों की भर्ती सुनिश्चित करने में मदद करूंगा।

 पूर्व विधायक ने मालेगांव में एक विरोध प्रदर्शन के आयोजन के दौरान ये बातें कहीं. प्रदर्शन का वीडियो मुफ्ती इस्माइल के फेसबुक पर भी शेयर किया है. उन्होंने कहा है कि बहुत हो गया अब आतंक का सफाया करने के लिए फौज में मराठा, गोरखा, राजपूत की तरह मुसलमान रेजिमेंट बनानी चाहिए.

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.