Navjot singh Sidhu: पुलवामा हमले पर सिद्धू का बयान कांग्रेस की मुश्किल बढ़ाएगा

पुलवामा हमले पर जब पूरे देश सैनिकों के साथ खड़ा है तब कांग्रेस नेता और पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू का बयान कांग्रेस के लिए परेशानी का सबब बन गया है. बीजेपी और देश भर से उनके बयान को लेकर उनपर तीखे हमले किए जा रहे हैं. ऐसी भी खबर है उनके बयान की वजह से ही उन्हें ‘द कपिल शर्मा शो’ से हटाया गया है

Navjot singh Sidhu: पूर्व क्रिकेटर और पंजाब के मंत्री सिद्धू की जगह पर अर्चना पूरन सिंह को लाया गया है. द इंडियन एक्सप्रेस को बताया,

पुलवामा आतंकी हमले पर उनकी (नवजोत सिंह सिद्धू की) प्रतिक्रिया से सही संदेश नहीं गया है. ऐसे में चैनल और शो (कपिल शर्मा का) दोनों किसी ग़ैरज़रूरी विवाद में नहीं पड़ना चाहते. लिहाज़ा टीम से नवजोत सिंह सिद्धू से दूरी बनाने का फ़ैसला किया है.

पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद पूरा देश जहां एकजूट था वहीं नवजोत सिंह सिद्धू पुलवामा आतंकी हमले के बाद ज्ञान दे रहे थे. उन्होंने कहा,

 ‘अच्छे-बुरे लोग हर जगह होते हैं. हर संगठन, हर देश में होते हैं. बुरों को उनके अपराध की सज़ा मिलनी चाहिए. लेकिन आतंकियों की क़ायराना हरक़त के लिए किसी देश को क़सूरवार नहीं ठहराया जाना चाहिए. व्यक्तिविशेष पर इसका दोषारोपण नहीं करना चाहिए.

सिद्धू के इस बयान कांग्रेस को जवाब देते नहीं बन रहा है. कांग्रेस ने सिद्धू के इस बयान से किनारा कर लिया है और गुलाम नवी आजाद ने कहा है कि पार्टी इस बयान से इत्तेफाक नहीं रखती. बीजेपी और सोशल मीडिया पर सिद्धू के खिलाफ लोग लिख रहे हैं. और कांग्रेस नहीं चाहती इसका नुकसान उसे चुनाव में हो क्योंकि सिद्धू स्टार प्रचारक माने जाते हैं.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से नवजोत सिंह सिद्धू के निजी ताल्लुक़ात हैं. सिद्धू पिछले साल इमरान के शपथग्रहण समारोह में पाकिस्तान गए थे. इसके बाद करतारपुर साहिब गलियारे के भूमि पूजन पर भी पाकिस्तान में हुए समारोह में शामिल हुए थे. उन्होंने पाकिस्तानी सेना प्रमुख को गले लगाया था और इसको लेकर काफी हल्ला हुआ था. अब एक बार फिर से सिद्धू कांग्रेस की मुश्किलें बढ़ा सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.