प्रियंका को क्यों आया गुस्सा, पार्टी नेताओं को दी नसीहत

कांग्रेस के अध्यक्ष पद से राहुल गांधी के इस्तीफे के बाद से प्रियंका गांधी का नाम इस रेस में आगे चल रहा है. कांग्रेस के कई नेताओं ने भी प्रियंका गांधी के नाम का जिक्र किया है और कार्यकर्ता भी उनके नाम पर सहमत नजर आते हैं. लेकिन अब प्रियंका ने पार्टी नेताओं से कहा है कि वो अध्यक्ष पद के लिए उनके नाम को ना उछालें

प्रियंका गांधी को अध्यक्ष बनाए जाने की वकालत कांग्रेस के कई बड़े नेता कर चुके हैं. इन नेताओं पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह, कांग्रेस सांसद शशि थरूर जैसे नेता इस फेहरिस्त में शामिल हैं. अब पार्टी की एक महत्वपूर्ण बैठक में प्रियंका गांधी ने ये स्पष्ट कर दिया है कि पार्टी का कोई भी नेता कांग्रेस के अध्यक्ष पद के लिए उनके नाम का जिक्र नहीं करेगा. प्रियंका गांधी ने यह बात पार्टी की एक बैठक में कांग्रेस नेतृत्व संभालने की भूमिका से इनकार करते हुए कही.

प्रियंका गांधी का ये बयान ऐसे वक्त में आया है जब गुरुवार को ही कांग्रेस के नेता वीरप्पा मोइली ने प्रियंका गांधी में पार्टी अध्यक्ष बनने की सभी योग्यताएं होने की बात कही थी. कांग्रेस वरिष्ठ नेताओं के बयानों के बाद प्रियंका ने बड़े सख्त लहजे में कहा है कि ‘उनके नाम को मत घसीटिए’ हिन्दुस्तान टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक प्रियंका गांधी महासचिव बनने के बाद अपना पूरा फोकस पार्टी को खड़ा करने पर लगा रही है. उन्हें यूपी की कमान मिली है और वो यहां पर पार्टी के लिए काम कर रही हैं.

वहीं बात करें कांग्रेस के अध्यक्ष पद की तो राहुल गांधी के इस्तीफे के बाद ये पद खाली है. राहुल गांधी ने काफी मनाने के बाद भी किसी की बात नहीं मानी और पार्टी से नया अध्यक्ष के चुनाव की प्रक्रिया शुरु करने क लिए कहा है.

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.