महाराष्ट्र : पानी चाहिए तो राशन और आधार कार्ड लाइए

-Water-Supply-

पानी की किल्लत से जूझ रहे महाराष्ट्र में हालात बहुत खराब हैं. पानी के टैंकर पर पानी लेने के लिए पहुंचे वाले लोग एक दूसरे से भिड़ जाते हैं, घायल हो जाते हैं और लड़ाई झगड़ा करते हैं. यहां अब तो हालात ये हो गए हैं कि पानी लेने के लिए राशन कार्ड की जरूरत पड़ रही है.

सोचिए अगर राशन कार्ड से पानी मिलने लगे तो क्या होगा. यकीनन हाल खराब हो जाएंगे. आपको बता दें कि अब महाराष्ट्र के बुलढाणा ज़िले के चिंचोली गांव में राशन कार्ड के आधार पर हर परिवार को 200 लीटर पानी देना शुरू कर दिया है. यानी ये हो रहा है. बुलढाणा में सभी बांध पानी की किल्लत से जूझ रहे हैं और यहां सभी बांधों में 70 प्रतिशत पानी खत्म हो चुका है.

चिंचौली गांव की जनसंख्या 3650 है और इतने लोगों के लिए दो टैंकर पर्याप्त नहीं हैं. पानी का टैंकर गांव में साढ़े पांच बजे और 12 बजे दोपहर में आता है. यहां लोग पानी के टैंकर को देखकर लाइन लगाते हैं और पानी सिर पर घड़े रखकर लेने जाते हैं. कभी कभी तो ऐसा होता है कि लाइन में लगे रहिए और जब आपका नंबर आएगा तो पानी खत्म हो जाएगा. यहां रहने वाले लोग टैंकर के भरोले हैं और यहां लोगों को पानी लेने के लिए राशन कार्ड और आधार देना पड़ता है.

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.