देश के नेता किसी भी आतंकी हमले का जवाब देने के लिए तैयार हैं : NSA

हरियाणा में गुरुग्राम के कादरपुर स्थित केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के 80वें स्थापना दिवस का आयोजन किया गया. इस कार्यक्रम में एनएसए अजीत डोवाल ने कहा कि देश के नेता किसी भी आतंकी हमले से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं.

कार्यक्रम में सीआरपीएफ बलों को संबोधित करते हुए डोवाल ने कहा कि भारत पुलवामा हमले में मारे गए 40 जवानों की शहादत को नहीं भूलेगा. उन्होंने इस दौरान 14 फरवरी को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर हुए फिदायीन हमले में मारे गए जवानों को श्रद्धाजंलि भी दी. उन्होंने कहा कि जवानों का यह बलिदान देश भूला नहीं है और कभी भूलेगा भी नहीं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के करीबी माने जाने वाले डोवाल ने कहा,

पाकिस्तान स्थित बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी शिविर पर हमला कराए जाने के पीछे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्लानिंग थी. हमें क्या करना है? हमें किस तरह से करना है, हमारा ध्येय क्या होना चाहिए और समय क्या होना चाहिए इसका निर्णय लेने में हमारे नेता सक्षम हैं और उनमें माद्दा है कि वह यह कर सकते हैं.

सीआरपीएफ में फिलहाल तीन लाख सुरक्षा बल हैं. इसका गठन 1939 में ब्रिटिश शासन के दौरान क्राउन रिप्रजेंटेटिव पुलिस के तौर पर हुआ था. डोवाल ने कहा कि देश पूरी तरह से तैयार है. उन्होंने जवानों से कहा कि जवानों को पीछे मुड़कर देखने या चिंता करने की जरूरत नहीं है. आपको अपना प्रोफेशनलिज्म, क्रेडिबिलिटी ट्रेनिंग और शारीरिक मजबूती बढ़ाने की जरूरत है. अगर आपका आत्मविश्वास ऊंचा है तो देश का भविष्य सुरक्षित है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.