बद्रीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के सदस्य बने मुकेश अंबानी के बेटे अनंत

ANANT-Ambani

देहरादून: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने एलान किया है कि मुकेश अंबानी के बेटे अनंत अंबानी बद्रीनाथ और केदारनाथ मंदिर समिति के सदस्य होंगे.

अनंत अंबानी को जिस समिति का सदस्य बनाया गया है वो बद्रीनाथ और केदारनाथ मंदिर का पूरा प्रबंधन और प्रशासन का काम करती है. उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मीडिया को ये जानकारी दी है.

न्यूज़ एजेंसी एएनआई के मुताबिक, अनंत अंबानी को समिति का सदस्य बनाने के पीछे कहा जा रहा है कि उनका परिवार कुछ भी महत्वपूर्ण आयोजन होता है तो पूजा-अर्चना बद्रीनाथ केदारनाथ आते रहते हैं. पिछले साल मुकेश अंबानी की बेटी ईशा अंबानी की शादी के लिए परिवार के लोगों ने बद्रीनाथ और केदारनाथ का दर्शन कर आशीर्वाद लिया था.

मंदाकिनी नदी के तट पर बसा केदारनाथ मंदिर दुनियाभर मशहूर है. यह शिव का बहुत प्राचीन मंदिर है. हिंदुओं के चार धामों में शामिल इस मंदिर का पूरा प्रबंधन और प्रशासन ये कमेटी करती है, जिसमें अनंत को जगह मिली है. इस मंदिर के कपाट 6 महीने बंद रहते हैं. अब 9 मई को इसके कपाट खुलेंगे. कपाट खोलने की तारीख और समय की घोषणा महाशिवरात्रि के अवसर पर रुद्रप्रयाग जिले के उखीमठ के ओंकारेश्वर मंदिर में की गई.

बताया जा रहा है कि मुकेश अंबानी के बेटे अनंत अंबानी ने इस समिति में आने की इच्छा जाहिर की थी. उत्तराखंड सरकार ने उनकी इच्छा को ध्यान रखते हुए ये फैसला किया है. इस समिति में अनंत अंबानी के अलावा इंद्रमणी गैरोला, चंद्रकला ध्यानी, अनिल कंसल, रामसूरत नौटियाल, ऋषि सती, अरुण मैठाणी, धीरज पंचभैया मोनू, राजपाल सिंह पुंडीर को भी सदस्य के रूप में मनोनीत किया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.