प्रियंका गांधी और अमित शाह के बीच कितना फर्क है आप इस खबर से समझिए!

गुरुवार को जब पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकी हमला हुआ तो देश में दो अलग अलग शहरों में दो राष्ट्रीय दलों के दो बड़े नेताओं के कार्यक्रम हो रहे थे. भाजपा अध्यक्ष अमित शाह कर्नाटक के होशपेट इलाके में पहुंचे हुए थे और कांग्रेस की महासचिव लखनऊ में थीं.

देश में जैसे ही खबर फैली की पुलवामा में 40 से ज्यादा जवान शहीद हो गए हैं. तो पूरा देश स्तब्ध रह गया. राजनीति में आने के बाद लखनऊ में प्रियंका गांधी पहली बार प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाली थीं सभी तैयारियां पूरी हो चुकी थीं  लेकिन आतंकी हमले की सूचना मिलने के बाद उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस रद्द कर दी और दो मिनट का मौन रखकर शहीदों को श्रद्धाजलि दी. उन्होंने कहा

वहीं दूसरी तरफ बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह कर्नाटक के होशपेट इलाके में पुलवामा आतंकी हमले के बाद भी सभा को संबोधित करके ही लौटे. सोशल मीडिया पर लोगों ने अमित शाह की आलोचना की और इस दुख की घड़ी में भी अपना भाषण ना रोकने के लिए अमित शाह पर निशाना साधा. आपको बता दें कि प्रेस कॉन्फ्रेंस के साथ ही प्रियंका गांधी के उत्तर प्रदेश दौरे को खत्म होना था और लोग काफी उत्सुक थे कि प्रियंका गांधी क्या बोलेंगी. लेकिन पुलवामा हमले के बाद वो कुछ नहीं बोलीं और प्रेस कॉन्फ्रैंस रद्द कर दी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.