‘#5yearchallenge’ में फंसी BJP, सपा नेता ने दिया SP_BSPChallege2019

इन दिनों #10yearchallenge चैलेंज चल रहा है. इस चैलेंज के चलते बीजेपी ने ‘#5yearchallenge’ की शुरूआत की है. इस कैंपेन के तहत बीजेपी अपने पांच साल का हिसाब दे रही है. कैंपेन में बताया जा रहा है कि बीजेपी ने पांच साल में क्या किया. लेकिन कैंपेन में बीजेपी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से की गई पोस्ट बीजेपी के लिए फजीहत की वजह बन गई है.

सरकार के काम का प्रचार करने के लिए सोशल मीडिया पर बीजेपी की सोशल मीडिया विंग काफी सक्रिय है. और इसी के चलते पार्टी ने अपने दावों के साथ कुछ कार्टून और तस्वीरें सोशल मीडिया पर पोस्ट की हैं. गुरुवार और शुक्रवार को बीजेपी का ये चैलेंज ट्रेंड करता रहा. इन्हीं में से एक पोस्ट था ये.

twitter

ये दो तस्वीरें दिल्ली से सटे ‘वेस्टर्न पेरिफ़ेरल एक्सप्रेस-वे’ के काम को दिखाने के लिए पोस्ट की गई हैं. लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि ये दोनों ही तस्वीरें फर्जी हैं. गुरुवार शाम को ये पोस्ट की गई थी. पोस्ट में दिखाने की कोशिश की गई कि वेस्टर्न पेरिफ़ेरल एक्सप्रेस-वे का काम कितनी तेज़ी से पूरा किया गया. लेकिन सच्चाई ये है कि इसकी पहली तस्वीर ‘वेस्टर्न पेरिफ़ेरल एक्सप्रेस-वे’ की नहीं बल्कि ये जो ‘कच्चा हाइवे’ बना हुआ है ये अखिलेश सरकार में बने ‘आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे’ की तस्वीर है जिसे 17 मार्च, 2015 को फ़ोटोग्राफ़र मनीष अग्निहोत्री ने खींचा किया था. ये एक्सप्रेस वे अखिलेश सरकार की बड़ी उपल्ब्धि थी क्योंकि ये रिकॉर्ड 24 महीने से कम वक़्त में तैयार हुआ था. वहीं दूसरी तस्वीर जो आप देख रहे हैं ये दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे की है जिसके पहले खंड का उद्घाटन रविवार, 27 मई 2018 को पीएम मोदी कर चुके हैं. ये एक्सप्रेस वे तीन खंड में तैयार होना है.

twitter

यानी चैलेंज के चक्कर में बीजेपी अखिलेश यादव के काम को ही दिखा बैठी, अखिलेश यादव तो कई बार कह चुके हैं कि बीजेपी उनके काम को अपना बताकर उद्घाटन कर रही है. अब उन्हें एक बार फिर मौका मिल गया है. सपा प्रवक्ता सुनील सिंह साजन ने इस पोस्ट को शेयर किया है.

twitter

सपा ने बीजेपी को घेरा है, कहा है कि बीजेपी SP_BSPChallege2019 चैलेंज ले, बीजेपी ने जो पोस्ट किया है उसमें फर्जी फोटो लगाई गई हैं. यानी गलत खबर फैलाई गई है. हज़ारों लोग उसे शेयर कर चुके हैं. झारखंड, नागालैंड, त्रिपुरा, आंध्र जैसे राज्यों की बीजेपी ईकाईयों ने इसे फैलाया है और बताया है कि बीजेपी ने कितना काम किया. लेकिन सच्चाई ये है कि बीजेपी के मुख्य आधिकारिक हैंडल @BJP4India से ट्वीट की गई ये दोनों तस्वीरें फर्जी हैं. हालांकि शुक्रवार को इन तस्वीरों को@BJP4India से हटा दिया गया है. लेकिन कई राज्यों में बीजेपी के कार्यकर्ता इन्हें शेयर कर रहे हैं. यानी बीजेपी ने फर्जी फोटो दिखाकर चैलेंज जीतने की कोशिश की है.

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.