जब अमेरिका को पछाड़ देगा भारत…

2030 में दुनिया की महाशक्तियों को चुनौती देता भारत पछाड़ देगा. मौजूदा वक्त में दुनिया की महाशक्ति अमेरिका 2030 में तीसरे स्थान पर होगा. चौथे नंबर पर इंडोनेशिया और पांचवे पर होगा तुर्की. ये आंकड़े भारत की उभरती हुई ताकत का प्रतीक हैं. अब आप सोच रहे होंगे कि आंकड़े आए कहा से हैं.

ये आंकड़े ब्रिटेन की एक फाइनेंशियल सर्विस फर्म ने जारी किए हैं. फर्म ने भारत के सुपर पॉवर बनने की संभावनाओं पर मुहर लगा दी है. ब्रिटेन की फाइनेंशियल सर्विस फर्म स्टैंडर्ट चार्टर्ड PLc ने अपनी ताजा रिपोर्ट में दावा किया है कि साल 2030 तक भारत, अमेरिका को पछाड़कर दुनिया की दुसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा.  

स्टैंडर्ड चार्टर्ड के अर्थशास्त्रियों ने डेविड मान के नेतृत्व में तैयार किए गए नोट में कहा गया है कि हमारा विकास पुर्वानुमानों का दीर्घकालिक पूर्वानुमान एक मुख्य सिद्धांत को रेखांकित करता है. जिसके तहत दुनिया की जीडीपी में हिस्सेदारी रखने वाले देशों को अपनी जनसंख्या के शेयर और प्रति-व्यक्ति जीडीपी को आधार बनाया गया है.

चीन की विकास दर साल 2030 तक 5 % के आसपास सिमट जाएगी. 2030 में चीन की अर्थव्यवस्था का आकार करीब 64.2 ट्रिलियन डॉलर के करीब होगी और भारत 46.3 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था वाला देश होगा. वहीं अमेरिका तीसरे नंबर पर होगा जिसकी अर्थव्यवस्था 31.0 ट्रिलियन डॉलर की होगी.

रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत का ये विकास उसकी युवा शक्ति की वजह से होगा. ब्रिटिस फर्म ने माना है कि भारत की बड़ी आबादी युवा है. यहां औसत आयु करीब 27 वर्ष है. ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि इस कार्यबल के आधार पर भारत आने वाले सालों में तेजी से विकास करेगी. लेकिन यहां ये भी ध्यान देने वाली बात है कि भारत की सरकारों को रोजगार उपलब्ध कराना होगा नहीं तो भारत ये उपलब्धि हासिल नहीं कर पाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.