क्रिकेट से राजनीति में आए और MP बन गए मुर्तजा

ढाका: मैदान पर खेलने वाला खिलाड़ी अब संसद में देश के विकास के लिए होने वाले अहम फैसलों में शामिल होगा. बाग्लांदेश में हुए आम चुनाव में शेख हसीना की पार्टी आवामी लीग भारी बहुमत से जीती है. इस जीत में एक खिलाड़ी का भी योगदान है. जीहां बांग्लादेश के किक्रेट टीम के कप्तान मशरफे मुर्तजा चुनाव जीत MP बन गए हैं.

काफी बड़े अंतर से जीते

आवामी लीग के उम्मीदवार मुर्तज़ा ने अपने प्रतिद्वंद्वी को ढाई लाख से भी अधिक वोटों से हराया है. नारायल-2 सीट से मैदान में उतरे मुर्तज़ा को 2 लाख 71 हज़ार से ज्यादा वोट मिले तो वहीं जातीय ओइक्यो फ़्रंट गठबंधन के फ़रीदुज़्ज़मां फ़रहाद को सिर्फ 7,883 वोट मिले.

क्रिकेट छोड़ेंगे फैसला

मुर्तज़ा ने 9 दिसंबर को कहा था कि वो 2019 विश्व कप के बाद क्रिकेट से संन्यास ले लेंगे. इससे पहले नवंबर में फेसबुक पर उन्हें एक पोस्ट में राजनीति में आने की इच्छा जाहिर करते हुए लिखा था कि उनमें हमेशा राजनीति की इच्छा रही है और देश का विकास बिना राजनीति के संभव नहीं.

35 साल के मुर्तज़ा ने वनडे में 202 मैचों में 258 विकेट, 36 टेस्ट में 78 विकेट, 54 टी-20 मैचों में 42 विकेट लिए हैं. ऐसा नहीं है कि मुर्तज़ा ऐसे पहले शख़्स हैं जो राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के कप्तान रहे हों और सांसद बने हों. उनसे पहले नईमुर रहमान दुरजॉय पहली बार सांसद बने थे. मुर्तज़ा की कप्तानी में उनकी टीम बेहतर खेली अब बारी राजनीति की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.