Virtual tourism: चम्पावत के लिए CM का खास प्लान, पर्यटन को मिलेगी ऐसे पहचान

Virtual tourism देवभूमि उत्तराखण्ड के मुख्य जिलों में से एक चम्पावत champawat भी हैं। अब जिले के लिए सीएम पुष्कर सिंह धामी ने एक खास प्लान तैयार किया है.

virtual tourism: चम्पावत जिला आज भी कुंमाऊं के अंदर आता है। चम्पावत शुरू से ही अपने खूबसूरत मंदिरों व शानदार आर्किटेक्चर की वजह से पूरे भारत में प्रसिद्ध है। चम्पावत को देखकर आपको लगेगा कि यह जगह खास तौर पर पर्यटकों के लिए ही बनाई गई है। उत्तराखण्ड का यह जिला इतना खूबसूरत व मनमोहक है कि लोग इसका पर्यटन सालों तक नहीं भूलते।

चम्पावत के मंदिरों का आर्किटेक्चर इतना मनमोहक है कि लोग यहां के दर्शन बार बार करना चाहते हैं, लेकिन करोना काल के बाद से अपने मन चाहे मंदिर के दर्शन करना कोई आम बात नही रह गई है। करोना काल के दौरान संक्रमण को काबू में रखने के लिए सभी मंदिरों Virtual tourism को बंद करना पड़ा था, जिसका सीधा प्रभाव श्रद्धालुओं पर पड़ा था, लेकिन अगर हम आप से यह कहें कि आपको अपने मंदिरों, अपने ईश्वर, अपने इष्ट के दर्शन करने से करोना जैसे बाधा नहीं रोक सकती तो??

जी हां यह एक दम सत्य है! उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी कल यानी 6 जुलाई को सुबह 8 बजे से सोशल मीडिया के माध्यम से सभी पर्यटकों को चम्पावत के मुख्य पर्यटन स्थलों के वर्चुअल टूर Virtual tourism व दर्शन करवांगे। आप मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के किसी भी सोशल मीडिया अकाउंट से जुड़ कर इस कार्यक्रम में हिस्सा ले Virtual tourism सकते हैं। इस कार्यक्रम का आयोजन खास तौर से उन लोगों के लिए हुआ है वो चम्पावत आने में किसी भी वजह से असमर्थ हैं।

मुख्य स्थलों की सूची

1. बालेश्वर मंदिर

2. शनि देवता मंदिर

3.नागनाथ मंदिर

4.मीठा रीठा साहिब

5.पूर्णागिरी मंदिर

6.श्यामलातल

7.पंचेश्वर

8.देवीधुरा

9.अब्बोट माउंट

10.लोहा घाट

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. https://rajniti.online/ पर विस्तार से पढ़ें देश की ताजा-तरीन खबरें

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.