राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर कोर्ट ने क्यों लगाया 14 करोड़ का जुर्माना?

Who threw the strange letter of US President Donald Trump in the trash

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर कोर्ट ने 14 करोड का जुर्माना लगाया है . ट्रंप के ऊपर आरोप है कि उन्होंने 2018 में चैरिटी की रकम को अपनी जरूरतों के लिए इस्तेमाल किया. इसके बाद उनकी चैरिटी ‘डोनाल्ड ट्रम्प फाउंडेशन’ बंद हो गई, उनके बेटे और बेटी इसके निदेशक थे. जज ने कहा, जुर्माने की रकम ट्रम्प की चैरिटी को जाती, लेकिन अब यह रकम 8 अलग चैरिटियों को जाएगी.

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप कई बार गलत वजह से चर्चा में रहता है एक बार फिर से वह सुर्खियों में है और उनके ऊपर आरोप है कि उन्होंने चैरिटी की रकम को अपने निजी काम के लिए इस्तेमाल किया इसके लिए कोर्ट ने उनको दोषी मानते हुए उनके ऊपर 14 करोड़ का जुर्माना लगाया है .

ट्रम्प पर न्यूयॉर्क की एक कोर्ट ने 20 लाख डॉलर (करीब 14 करोड़ रुपए) का जुर्माना लगाया है . ट्रम्प पर 2016 में अपने राष्ट्रपति चुनाव अभियान के लिए चैरिटी की रकम खर्च करने का दोषी पाया गया. बताया गया है कि उन्होंने इन पैसों का इस्तेमाल अपनी पहले से मुनाफे में चल रही कंपनी का कर्ज चुकाने और खुद की पेंटिंग्स खरीदने में किया. ट्रम्प और उनके वकील लंबे समय से इन आरोपों को राजनीति से प्रेरित बताते रहे हैं.

डोनल ट्रंप चैरिटी का पैसा चेक बुक की तरह इस्तेमाल करने का आरोप लगा था. पक्ष का आरोप था कि ट्रम्प ने चैरिटी का इस्तेमाल अपनी चेकबुक की तरह किया. इसके बाद उनकी चैरिटी डोनाल्ड जे ट्रम्प फाउंडेशन बंद हो गई थी. न्यूयॉर्क कोर्ट की जज ने फैसले में कहा कि

‘ट्रम्प पर जो जुर्माना लगाया गया है, वह उनकी चैरिटी में ही जाता, लेकिन वह अब अस्तित्व में नहीं है, इसलिए राष्ट्रपति को यह पैसा 8 अलग-अलग चैरिटियों को दान करना होगा’

कोर्ट ने अपने फैसले में कहा है कि डॉनल्ड ट्रंप ने सैनिकों के नाम पर चुनाव में काफी फंड जमा किया था और बाद में उन्होंने इस फंड का इस्तेमाल अपने निजी काम के लिए किया. ट्रम्प के चुनाव अभियान के तहत आयोवाप्राइमरी इलेक्शन के लिए अमेरिका के पूर्व सैनिकों ने काफी फंड इकट्ठा किया था. न्यूयाॅर्क के अटॉर्नी जनरल लेतिशिया जेम्स के मुताबिक, ट्रम्प फाउंडेशन के निदेशक- डोनाल्ड ट्रम्प जूनियर, एरिक ट्रम्प और इवांका ट्रम्प को चैरिटियों के अधिकारी और निदेशक की आवश्यक ट्रेनिंग से गुजरना होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *