BCCI के सर्वेसर्वा बने दादा, अमित शाह के बेटे जय शाह को अहम जिम्मेदारी

Amit Shah's son Jai Shah and Sourav Ganguly to be BCCI's surveyors

अमित शाह के बेटे जय शाह के एक बार फिर से सुर्खियों में है. जय शाह को BCCI में बड़ी जिम्मेदारी मिलने वाली है. इसके अलावा पूर्व भारतीय टीम के कप्तान सौरव गांगुली बीसीसीआई का अध्यक्ष बनना भी लगभग तय है. बोर्ड के अहम पदों के लिए नियुक्ति में चुनाव होने के आसार नहीं हैं. कई दिनों से जारी लॉबिंग के बाद सभी पद निर्विरोध तय माने जा रहे. खबर ये भी है कि ब्रिजेश पटेल अब आईपीएल के नए चेयरमैन बन सकते हैं.

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी BCCI में अहम पदों पर नियुक्ति की प्रक्रिया के साथ ये भी तय हो गया है कि कौन किस कुर्सी पर बैठेगा. भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली बीसीसीआई के नए अध्यक्ष बन सकते हैं वैसे इस पद के लिए पहले बृजेश पटेल का नाम आगे चल रहा था. सचिव के लिए  केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बेटे जय शाह का नाम आगे चल रहा है. बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष और वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर के छोटे भाई अरुण धूमल कोषाध्यक्ष बन सकते हैं. इन पदों के लिए चुनाव होने के आसार नहीं है. कई दिनों से जारी लॉबिंग के बाद सभी उम्मीदवार निर्विरोध चुने जा सकते हैं.

47 साल के गांगुली क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बंगाल के अध्यक्ष हैं. न्यूज एजेंसी से बोर्ड के एक पदाधिकारी ने कहा, ‘हमें गांगुली के नए बीसीसीआई चुने जाने पर बेहद खुशी है।’ ऐसा माना जा रहा है कि पटेल अब आईपीएल के नए चेयरमैन बन सकते हैं. सौरव गांगुली अगर ये जिम्मेदारी संभालते हैं तो उनका कार्यकाल अगले साल तक होगा. यानी वो 10 महीने के लिए इस पद पर काबिज होंगे. सौरव अभी 5 साल से बंगाल क्रिकेट के अध्यक्ष हैं। बोर्ड में 6 साल तक किसी पद पर रहने के बाद उन्हें कूलिंग ऑफ (आराम) दिया जाएगा. अपने प्रशासनिक गुरु जगमोहन डालमिया की तरह ही गांगुली इस पद की रेस में तब आए हैं, जब ऐसा लग रहा था कि अध्यक्ष कोई और पहुंचेगा. वहीं अमित शाह के बेटे जय शाह का सचिव बनना भी लगभग तय है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *