राहुल गांधी का इस्तीफा रोकने के लिए 120 से ज्यादा पदाधिकारियों ने इस्तीफा दिया

राहुल गांधी का इस्तीफा रोकने के लिए 120 से ज्यादा पदाधिकारियों ने इस्तीफा दिया

कांग्रेस में इस्तीफों को दौर चल रहा है. राहुल गांधी ने गुरुवार को बैठक के दौरान राज्य के नेताओं द्वारा हार की जिम्मेदारी ना लेने पर नाराजगी जाहिर की थी और उसके बाद दिल्ली, तेलंगाना और गोवा जैसे राज्यों के अध्यक्षों और 120 पदाधिकारियों ने इस्तीफा दे दिया.

लोकसभा चुनाव में हार के बाद कांग्रेस में इस्तीफों का दौर शुरु हो गया है. पहले राहुल गांधी ने इस्तीफे की पेशकश की और अब पार्टी के 120 से ज्यादा पदाधिकारियों ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की नाराजगी के बाद पार्टी के कई नेताओं ने शुक्रवार को इस्तीफा दे दिया है. आपको बता दें कि राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा ने गुरुवार को इस्तीफे की घोषणा की थी और कहा था कि पार्टी के सभी नेताओं को अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए. उन्होंने कहा था कि एक बार सभी लोग इस्तीफा दे देंगे तो राहुल गांधी को नई टीम बनाने में छूट मिलेगी.

कांग्रेस में इस्तीफों का दौर

राहुल गांधी की नाराजगी के बाद दिल्ली के कार्यकारी अध्यक्ष राजेश लिलोथिया, तेलंगाना के पूनम प्रभाकर और गोवा कांग्रेस अध्यक्ष गिरीश चोडनकर ने लोकसभा चुनाव में हार की जिम्मेदारी लेते हुए इस्तीफा दे दिया है. इनके अलावा देश भर से करीब 120 पदाधिकारियों ने भी इस्तीफे की पेशकश की है. इनमें से कई का कहना है कि वे तब तक इस्तीफा वापस नहीं लेंगे, जब तक कि राहुल गांधी पार्टी अध्यक्ष बने रहने के लिए राजी नहीं होते. राहुल गांधी इस्तीफा देने पर अड़े हुए हैं और पार्टी उन्हें पद छोड़ने देना नहीं चाहती. हरियाणा कांग्रेस के नेताओं के साथ बैठक में गुरुवार को राहुल ने कहा था कि हार की जिम्मेदारी लेते हुए ही उन्होंने इस्तीफा दिया है.

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.