‘सरकार पार्ट-2’ के 20 चेहरे जिनपर मोदी ने भरोसा किया

modi-cabinet

मोदी सरकार पार्ट-2 के मंत्रियों को विभाग बांट दिए गए हैं और ज्यादातर मंत्रियों ने पदभार संभाल लिया है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ जिन 57 मंत्रियों में शपथ ली है उनमें से 20 चेहरे नए हैं. कौन हैं वो 20 चेहरे ये आपको बताते हैं.

मिलिए मोदी के नए मंत्रियों से

अमित अनिल चंद्र शाह

अमित शाह बीजेपी अध्यक्ष हैं और उन्हें कैबिनेट में जगह दिये जाना बेहद महत्वपूर्ण माना जा रहा है. शाह ने बूथ प्रबंधन से लेकर राज्य दर राज्य बीजेपी की चुनावी जीत में अहम किरदार निभाया है. अब वो गृहमंत्रालय संभालेंगे.

रमेश पोखरियाल निशंक

उत्तराखंड की हरिद्वार लोकसभा सीट जीते रमेश पोखरियाल निशंक पर मोदी ने मेहरबानी की है और उन्हें एचआरडी मंत्रालय दिया गया है. निशंक 1991 से साल 2012 तक पांच बार यूपी और उत्तराखंड की विधानसभाओं के सदस्य रहे. उन्होंने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पद को भी संभाला है.

सुब्रह्मण्यम जयशंकर

इस फेहरिस्त में दूसरा चेहरा है एस.जयशंकर का. ये सबसे चौंकाने वाला नाम है. मोदी मंत्रिमंडल में शामिल पूर्व विदेश सचिव सुब्रह्मण्यम जयशंकर को कैबिनेट मंत्री बनाया गया है. वो विदेश मंत्रालय की जिम्मेदारी संभालेंगे. उन्हें इसी साल पद्मश्री से सम्मानित किया गया है. उन्हें विदेश सेवा का अच्छा खासा अनुभव है. फिर चाहें वो डोकलान विवाद हो या फिर भारत-अमरीका असैन्य परमाणु समझौते पर बातचीत. एस जयशंकर ने इसमें अहम किरदार अदा किया.

अर्जुन मुंडा

इस फेहरिस्त में अर्जुन मुंडा का नाम भी शामिल है. अर्जुल मुंडा झारखंड के दूसरे मुख्यमंत्री हैं और झारखंड के खूंटी से सांसद मुंडा ने इस लोकसभा चुनाव में कांग्रेस प्रत्‍याशी कालीचरण मुंडा को 1445 वोट से हराया था. अर्जुन मुंडा ने नाम सबसे कम उम्र में सीएम बनने का रिकॉर्ड है.

प्रह्लाद वेंकटेश जोशी

कर्नाटक के धारवाड़ से आने वाले प्रहलाद जोशी को भी मोदी मंत्रिमंडल में जगह मिली है. उन्हें संसदीय मामलों का मंत्रालय, कोयला एव खनन मंत्रालय दिया गया है. जोशी बीजेपी की कर्नाटक इकाई के पूर्व अध्यक्ष भी रह चुके हैं. वो पहली बार 2004 में चौदहवीं लोकसभा के लिए निर्वाचित हुए और उसके बाद से लगातार धारवाड़ से सांसद हैं.

अरविंद गणपत सावंत

अरविंद सावंत का नाम भी अहम है क्योंकि उन्होंने महाराष्ट्र की मुंबई दक्षिण लोकसभा सीट से कांग्रेस के मिलिंद मुरली देवड़ा हराया है. शिवसेना के सांसद अरविंद गणपत सावंत भी मोदी सरकार में नया चेहरा हैं. सावंत को भारी उद्योग एवं सार्वजनिक उद्यम मंत्री बनाया गया है. सावंत ने 2014 में भी इस सीट पर देवड़ा को पराजित किया था. सावंत को अच्छा खासा अनुभव है और वो 25 सालों तक महानगर टेलीफ़ोन कामगार संघ के अध्यक्ष रहे.

अनुराग ठाकुर

हिमाचल प्रदेश की हमीरपुर से सांसद बने हैं और उन्हें वित्त राज्य मंत्री बनाया गया है.  नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल में शामिल होने से पहले वो भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के अध्यक्ष भी रह चुके हैं.

सुरेश चनबसप्पा अंगड़ी

सुरेश चनबसप्पा अंगड़ी कर्नाटक में प्रभावशाली लिंगायत समुदाय से आते हैं. बेलगाव लोकसभा सीट से चौथी बार सांसद चुने हए अंगड़ी चनबसप्पा कई शिक्षण संस्थान भी संचालित करते हैं. उन्हें रेलवे मंत्रालय में राज्य मंत्री बनाया गया है.

नित्यानंद राय यादव

राय को गृह मंत्रालय में राज्य मंत्री बनाया गया है. राय बिहार भाजपा अध्यक्ष हैं. 2000 से 2014 तक विधायक रहे. नित्यानंद राय 2014 में पहली बार सांसद चुने गए थे.

प्रताप चंद्र षडंगी

प्रताप चंद्र षडंगी ओडिशा के बालासोर से पहली बार सांसद चुने गए हैं. मोदी सरकरा पार्टी 2 में उन्हें लघु और मध्यम उद्यम प्रभार मंत्रालय सौंपा गया है. ओडिशा के तटीय इलाक़े में षडंगी एक सरल राजनीतिक कार्यकर्ता के तौर पर पहचाने जाते हैं. आपको ये भी बता दें कि षडंगी ने साइकिल ने अपना चुनाव प्रचार किया और दो करोड़पति उम्मीदवारों को धूल चटा दी.

रतन लाल कटारिया

कटारिया हरियाणा के अंबाला से तीसरी बार भाजपा सांसद बने हैं और वो इससे पहले हरियाणा की सरकार में भी मंत्री रह चुके हैं. कटारिया को जल संसाधन मंत्रालय में राज्य मंत्री बनाया गया है. 1980 में वो भाजयुमो का प्रदेश उपाध्यक्ष रहे थे.

रामेश्वर तेली

असम के डिब्रूगढ़ से भाजपा सांसद रामेश्वर तेली को भी मंत्रिमंडल में जगह मिली है. रामेश्वर तेली को फूड प्रोसेसिंग मंत्रालय में राज्य मंत्री बनाया गया है. तेली 2014 से डिब्रूगढ़ सीट से सांसद हैं. तेली को मंत्री बनाने की रणनीति इसलिए भी जरूरी है क्योंकि बीजेपी पूर्वोत्तर में विस्तार की कोशिश कर रही है और इससे में उनका उपयोग हो सकता है. असम के कई इलाक़ों में तेली राजनीतिक प्रभाव रखते हैं. वो 2001-2006 और 2006-2011 तक असम की दुलियाजान सीट से विधायक रहे.

सोम प्रकाश

पंजाब के होशियारपुर से भाजपा सांसद सोम प्रकाश को भी मंत्रिमंडल में जगह दी गई है. रिटायर्ड आईएएस अधिकारी सोम प्रकाश जालंधर शहर के डिप्टी कमिश्नर रह चुके हैं. उन्हें वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय में राज्य मंत्री बनाया गया है.

वी मुरलीधरन

राज्यसभा सांसद वी मुरालीधरन केरल से मोदी सरकार में एकमात्र मंत्री हैं. कन्नूर ज़िले के थलासेरी के रहने वाली मुरालीधरन युवावस्था से ही बीजेपी से जुड़े हैं. मुरलीधरन को विदेश मंत्रालय में राज्य मंत्री बनाया गया है.

जी किशन रेड्डी

तेलंगाना बीजेपी अध्यक्ष जी किशन रेड्डी ने भी केंद्रीय राज्य मंत्री पद की शपथ ली है. इन्हें गृह मंत्रालय में राज्य मंत्री बनाया गया है. तीन बार विधायक रह चुके रेड्डी सिकंदराबाद सीट से सांसद निर्वाचित हुए हैं. वो भारतीय जनता युवा मोर्चा के अध्यक्ष भी रह चुके हैं.

कैलाश चौधरी

राजस्थान के बाड़मेर से भाजपा सांसद कैलाश चौधरी को भी राज्यमंत्री बनाया गया है. चौधरी ने तीन लाख से अधिक वोटों से धमाकेदार जीत हासिल की. कैलाश को कृषि मंत्रालय में राज्य मंत्री बनाया गया है. उन्होंने जसवंत सिंह के बेटे मानवेंद्र सिंह को हराया है.

देबोश्री चौधरी

पश्चिम बंगाल की रायगंज लोकसभा सीट से चौंकाने वाली जीत हासिल करने वाली देबोश्री चौधरी को भी मंत्रिमंडल में जगह दी गई है. देबोश्री ने ये सीट सीपीएम के वरिष्ठ नेता मोहम्मद सलीम और कांग्रेस की दीपा दासमुंशी को हराकर जीती है. देबोश्री को महिला एवं बाल विकास मंत्रालय में राज्य मंत्री बनाया गया है.

रेणुका सिंह

छत्तीसगढ़ की सरगुजा सीट से सांसद निर्वाचित हुईं रेणुका सिंह को भी केंद्रीय मंत्रिमंडल में जगह दी गई है. 12वीं तक पढ़ीं रेणुका सिंह 2000 में रामानुजगह बीजेपी इकाई की पहली महिला अध्यक्ष बनीं थीं. वो गोंड समुदाय से आती हैं. रेणुका सिंह को आदिवासी मंत्रालय में राज्य मंत्री का कार्यभार दिया गया है.

प्रह्लाद सिंह

मध्यप्रदेश के दमोह से जीतकर आए 58 वर्षीय प्रह्लाद सिंह पटेल ने बीएससी, एलएलबी और एमए(दर्शनशास्त्र) की शिक्षा हासिल की है.  उन्हें पर्यटन और संस्कृति मंत्री बनाया गया. छात्र राजनीति से जुड़े रहे पटेल 1982 में भारतीय जनता युवा मोर्चा के ज़िलाध्यक्ष बन गए थे. 2003 में वो केंद्र सरकार में कोयला राज्यमंत्री भी रह चुके हैं.

धोत्रे संजय शामराव

पेशे से इंजीनियर रहे संजय शामराव धोत्रे महाराष्ट्र की अकोला लोकसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी के सांसद हैं. और 2004 से वो लगातार जीतते आ रहे हैं. धोत्रे को मानव संसाधन मंत्रालय में राज्य मंत्री बनाया गया है.

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.