शर्मनाक बयान : अमित शाह ने ममता बनर्जी से कहा, – जो बन पड़ता है उखाड़ लो

amit-shah-

लोकसभा चुनाव में भाषा स्तर लगातार गिरता जा रहा है. नेताओं की जुबान पर काबू नहीं है वो किसी भी हद तक जाकर बयान दे रहे हैं. दिल्ली में बीजेपी सांसद केजरीवाल को भड़वा कहते हैं तो बंगाल में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ममता बनर्जी से कहते हैं कि जो बन पड़ता है उखाड़ लो.

बीजेपी इन चुनाव में पश्चिम बंगाल से काफी उम्मीदें कर रही है. बीजेपी को लग रहा है इस बार यहां से वो हिंदी बैल्ट में होने वाले नुकसान की भरपाई कर लेगी. यही कारण है कि बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह लगातार रैलियां कर रहे हैं और तीखे तेवरों से साथ टीएमसी मुखिया को घेर रहे हैं. लेकिन इस घेराव में भाषा का स्तर इतना नीचे चला गया है कि हद पार हो गई है. अब शाह के इस बयान को ही ले लीजिए. मंगलवार को पश्चिम बंगाल के (बिष्णुपुर) में एक रैली के दौरान अमित शाह ने ममता बनर्जी पर आरोप लगाते हुए कहा,

यदि ममता बनर्जी में हिम्मत है तो वह उन्हें ‘‘जय श्रीराम’’ बोलने के लिए गिरफ्तार करके दिखाएं, शाह ने कहा कि जो बन पड़ता है उखाड़ लो। भगवान राम भारत की संस्कृति का हिस्सा हैं… क्या कोई उनका नाम लेने से किसी को रोक सकता है? मैं ममता दीदी से पूछना चाहता हूं कि अगर श्रीराम का नाम भारत में नहीं लिया जायेगा तो क्या यह पाकिस्तान में लिया जायेगा।’

अमित शाह ने कल पश्चिम बंगाल के घाटाल, केशियारी और बिष्णुपुर में रैलियां कीं थी. इस दौरान शाह ने ममता को सीधे सीधे निशाने पर लिया लेकिन उनकी भाषा कतई अच्छी नहीं कही जा सकती. इस, बार के चुनाव में नेताओं के भाषा के स्तर पर बात करने वाले भी अब अफसोस जता रहे हैं. ये समझना मुश्किल है कि भारत का लोकतंत्र कहां पर आ गया है.

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.