वाराणसी को लेकर राहुल-प्रियंका के दिमाग में क्या खिचड़ी पक रही है ?

president-congress-priyanka-national-congress

देश की हाईप्रोफाइल लोकसभा सीटों में शुमार वाराणसी लोकसभा सीट को लेकर कांग्रेस गंभीरता से मंथन कर रही है. यहां से बीजेपी ने एक बार फिर से पीएम मोदी को टिकट दिया है. बीजेपी जानती है कि ये उसकी मजबूत सीट है और यहां से उसे हराना आसान नहीं है. लेकिन कांग्रेस में मोदी को वाराणसी में घेरने के लिए अलग से तैयारियां हो रही हैं.

‘अगर कांग्रेस अध्यक्ष मुझे वाराणसी से लड़ने को कहते हैं तो मुझे बहुत खुशी होगी.’

‘क्यूं नहीं चुनाव लड़ सकती, जरूर लड़ूगी अगर पार्टी कहेगी तो लड़ूगी’

दो मौकों, दो अलग अलग राज्यों में प्रियंका गांधी ने हंसते हुए वाराणसी से चुनाव लड़ने के सवाल पर ये प्रतिक्रियाएं दी हैं. प्रियंका गांधी और कांग्रेस के अध्यक्ष वाराणसी का जिक्र आने के बाद जिस तरह से प्रतिक्रिया दे रहे हैं वो ये सोचने पर मजबूर कर रही है कि कांग्रेस मोदी को उनकी संसदीय क्षेत्र में घेरने के लिए कोई खास प्लानिंग कर रही है.

क्या सोच रही है कांग्रेस?

दो दिवसीय वायनाड दौरे पर गईं प्रिंयका गांधी ने वाराणसी से चुनाव लड़ने के सवाल पर जो जवाब दिया है उससे एक बार स्पष्ट हो जाती है कि प्रियंका गांधी मोदी को घेरने में हिचकेंगी नहीं. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के पीएम मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने की अटकलें बार-बार सामने आ रही हैं. इस वजह से भी वाजिब है क्योंकि प्रियंका गांधी की प्रचार से उनकी मंशा स्पष्ट होती है.

राहुल गांधी भी वाराणसी लोकसभा सीट को लेकर अपने पत्ते नहीं खोल रहे हैं. उन्होंने ने भी कई बार इस वाराणसी को लेकर ऐसे प्रतिक्रिया दी है जैसे कोई खिचड़ी उनके दिमाग में पक रही है. इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि वाराणसी लोकसभा सीट बीजेपी के लिए प्रतिष्ठा से जुड़ी हुई सीट है और अगर महागठबंधन और कांग्रेस मिलकर यहां उम्मीदवार उतारते हैं तो बीजेपी के रंग में भंग पड़ सकता है.

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.