गोवा में सियासी उथल-पुथल, सरकार बना सकती है कांग्रेस ?

गोवा में सरकार बनाने के लिए कांग्रेस ने कोशिशें शुरु कर दी हैं. कांग्रेस ने गोवा की राज्यपाल मृदुला सिन्हा को पत्र लिखकर मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के नेतृत्व वाली सरकार को तुरंत बर्खास्त करने की मांग भी की है

गोवा में कांग्रेस के 14 विधायक हैं और वो सबसे बड़ी पार्टी है, बीजेपी के 13 विधायक है और वो दूसरे दलों के तीन विधायकों के समर्थन से सरकार चला रही है. कांग्रेस ने शनिवार को गोवा में सरकार बनाने का दावा पेश किया है. कांग्रेस का कहना है कि भाजपा विधायक फ्रांसिस डिसूजा के निधन के चलते मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के नेतृत्व वाली सरकार अल्पमत में आ चुकी है.

नेता प्रतिपक्ष चंद्रकांत कावलेकर ने गोवा की राज्यपाल मृदुला सिन्हा को पत्र लिखकर सरकार बनाने का दावा पेश किया है. इसमें लिखा है,

 ‘संविधान के अनुरूप अगर सबसे बड़ी पार्टी को सरकार बनाने का न्यौता नहीं दिया गया और राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की कोशिश की गई तो यह अलोकतांत्रिक और गैरकानूनी कदम होगा. इस फैसले को चुनौती दी जाएगी.’

गोवा में विधानसभा के कुल सदस्यों की संख्या 40 है और गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के विधायक फ्रांसिस डिसूजा का बीते महीने में निधन हो जाने और कांग्रेस के दो विधायकों के इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल होने के बाद सदन में विधायकों की संख्या 37 रह गई है. कांग्रेस का कहना है कि बीजेपी की सरकार अल्पमत में है. उधर गोवा के सियासी घटनाक्रम को देखते हुए बीजेपी ने आपात बैठक बुलाई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.