‘मोदी के बाद राहुल ने भी अपनी चाल चल दी है’

PTI5_1_2017_000178B

मोदी ने सवर्णों की नाराजगी को दूर करने के लिए और विपक्ष को बैकफुट पर लाने के लिए आरक्षण का दांव चला तो राहुल ने सरकार से किसानों की नाराजगी को भुनाने के लिए अपनी पहली चाल चल दी है.   कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राजस्थान के जयपुर में एक रैली को संबोधित करते हुए बड़ा एलान किया है. राहुल गांधी ने देशभर के किसानों से उनका कर्ज माफ करने का वादा किया है. न्होंने कहा है,

अगर लोकसभा के अगले चुनाव में कांग्रेस केंद्र की गद्दी पर काबिज हुई तो देशभर के किसानों का कर्ज माफ किया जाएगा.मैं समझता हूं कि किसानों की समस्याओं का हल सिर्फ कर्जमाफी से नहीं हो सकता. लेकिन यह कदम उन्हें शुरुआती राहत देने के लिए उठाया जाएगा. किसानों के फायदे के लिए कांग्रेस सरकार कृषि क्षेत्र के नजदीकी इलाकों में खाद्य प्रसंस्करण इकाइयां लगाने के अलावा मेगा फूड पार्कों का निर्माण करेगी.

कांग्रेस का ये दांव जांचा परखा हुआ है. 2008 से लेकर दिंसबर 2018 तक कांग्रेस कर्जमाफी के दांव को बड़ी अच्छी तरह से भुनाया है. नवंबर-दिसंबर में हुए पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के दौरान भी कांग्रेस ने किसानों से कर्जमाफी का वादा किया था. जानकार कहते हैं कि इस दांव ने काम किया और तीनों राज्यों में कांग्रेस आ गई. अब राहुल इसी के दम पर केंद्र से मोदी सरकार को उखाड़ फेंकने की तैयारी कर रहे हैं. राजस्थान में बीते महीने कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार के गठन के बाद राहुल गांधी का यह राज्य का पहला दौरा था. इस दौरे में राहुल ने संकेत दे दिए कि वो लोकसभा चुनाव में कहां टारगेट करने वाले हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.